युवा प्रकोष्ठ वाराणसी जोन के जोनल कार्यशाला के प्रथम दिन का आयोजन

युवा प्रकोष्ठ वाराणसी जोन के जोनल कार्यशाला के प्रथम दिन का आयोजन

महेश पाण्डेय ब्यूरो चीफ

वाराणसी: आज दिनांक 20.03.2021 दिन शनिवार को शान्तिकुंज हरिद्वार के तत्वावधान एवं गायत्री परिवार रचनात्मक ट्रस्ट, वाराणसी के संयोजन में युवा प्रकोष्ठ वाराणसी जोन का जोनल कार्यशाला का शुभारम्भ सायं 05.00 बजे से शुरू हुआ, जिसमें वाराणसी, चित्रकूट, मऊ, गोरखपुर उप जोन से 20 जिलों के युवा समन्वयक अपने दो प्रतिनिधियों के साथ कार्यशाला में भाग लिया। गायत्री तीर्थ शान्तिकुंज हरिद्वार से आये श्रद्धेय सदानन्द अम्बेकर एवं पूरन चन्द्रकर ने गायत्री मंत्र के सस्वर उच्चारण के साथ दीप प्रज्जवलन कर कार्यषाला का औपचारिक शुभारम्भ किया।

कार्यशाला को सम्बोधित करते हुये श्रद्धेय सदानन्द अम्बेकर जी ने कहा कि भारत के प्रगति की बागडोर युवाओं के हाथ में है, किन्तु हमारे युवा पाश्चात्य संस्कृति का अन्धा अनुकरण करते हुये भारतीय संस्कृति एवं सभ्यता से दूर होते जा रहे है, जिस कारण युवाओं में दूसरे से तुलना करने की प्रवृत्ति बढ़ी है, जिसके परिणामस्वरूप युवा अपने को अन्य से कम आॅकते हुये नशा रूपि राक्षस के आगोश में जकड़ता चला जा रहा है।

साथ ही रोजगार के अभाव में युवा हतोत्तसाहित एवं निराशा के दलदल में धँसता चला जा रहा है ऐसी परिस्थितियों में गायत्री परिवार की यह जिम्मेदारी बन जाती है कि युवाओं को रचनात्मक कार्य में लगावें स्वरोजगार की ओर युवाओं का ध्यान आकृष्ट करते हुयें रोजगार उपलब्ध कराने का मार्ग प्रशस्त करें साथ ही साथ नशा से उत्पन्न होने वाली समस्याओं की ओर युवाओं का ध्यान आकृष्ट कर नशा से दूर जाने की भावना को पैदा करें । गायत्री तीर्थ शान्तिकुंज हरिद्वार से आये पूरन चन्द्रकर ने वृक्ष गंगा एवं निर्मल गंगा जन अभियान पर अपने विचार रखते हुये पर्यावरण के असंतुलन को समाप्त करने हेतु अधिकाधिक वृक्षों के रोपण एवं संरक्षण पर कार्य करने की आवश्यकता पर बल दिया तथा गंगा सहित अन्य नदियों के निर्मलता एवं अविरलता हेतु गायत्री तीर्थ, शान्तिकुंज हरिद्वार द्वारा दिये गये निर्देशो के अनुरूप कार्य करने पर जोर दिया।

कार्यक्रम में प्रान्तीय युवा प्रकोष्ठ उ0प्र0 के प्रतिनिधि प्रभाकर सक्सेना, अनिल कुमार श्रीवास्तव एवं आदित्य पाण्डेय ने भी अपने विचार रखे। कार्यक्रम का संचालन आध्यात्मिक संदेश वाहक अनिलेष तिवारी नेे किया एवं कार्यक्रम का संयोजन गंगाधर उपाध्याय मुख्य प्रबन्ध ट्रस्टी (रचनात्मक ट्रस्ट), वाराणसी ने किया।

कार्यक्रम में मुख्य रूप से गंगाधर उपाध्याय, अशोक मिश्रा, डा0 अशोक सिंह, क्षितिज श्रीवास्तव, अवधेश सिंह, घनश्याम कर्मयोगी, भोला गुप्ता, आलोज जी, प्रखर सक्सेना, चन्दन कुमार, श्यामा नन्द सिंह, महेश मौर्या, श्रीमती सावित्री सिंह एवं मीडिया प्रभारी श्री रमन कुमार श्रीवास्तव आदि ने कार्यशाला में भाग लिया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *