“सुखमय संसार का आधार है योग”

“सुखमय संसार का आधार है योग”

संवाददाता:-वशिष्ठ वाणी दैनिक समाचार पत्र

” नमामि गंगे ने गंगा तट पर योग कर दिया संदेश ” रोगों के लिए संजीवनी है योग “

विश्व मानवता को भारत द्वारा दिए गए श्रेष्ठतम उपहार योग को गंगा तट पर साध कर नमामि गंगे ने रोगों संग जंग का संदेश दिया । नमामि गंगे टीम की महिला और पुरुष सदस्यों ने ॐ का उच्चारण, कपालभाति, अनुलोम-विलोम, भुजंगासन, पवनमुक्तासन, वृक्षासन और शंख बजाकर स्वस्थ मन, स्वस्थ शरीर, आनंदपूर्ण जीवन के लिए योग को आधार बनाने की अपील की । दरभंगा घाट पर अंतरराष्ट्रीय योग दिवस के उपलक्ष्य में सर्वप्रथम मां गंगा के तट की साफ-सफाई के पश्चात सदस्यों ने गंगा किनारे योग साधना की । संयोजक राजेश शुक्ला ने कहा कि योग संपूर्ण स्वास्थ्य का विज्ञान है । यह हिंदू जीवन दृष्टि का शोध और बोध है । काशी ने पूरे विश्व को योग का अमृत प्रदान किया है । योग का आविर्भाव भी गंगा तट पर ही हुआ है । योग हमें स्वस्थ जीवन जीने की कला सिखाता है । कोरोना के अलावा अन्य कई रोगों में भी योग काफी कारगर साबित हुआ है । आयोजन में प्रमुख रूप से काशी प्रांत के संयोजक राजेश शुक्ला , महानगर संयोजक शिवदत्त द्विवेदी, महानगर सहसंयोजक शिवम अग्रहरी, महानगर सहसंयोजक रामप्रकाश जायसवाल , सोनी चौरसिया , प्रीति जायसवाल, रश्मि साहू सारिका गुप्ता, पुष्पलता वर्मा , अंजली उपाध्याय, सोनू , दिलीप जायसवाल, भावना गुप्ता, रंजीता गुप्ता , प्रज्वल गुप्ता, सीमा चौरसिया, प्रियंवदा गुप्ता आदि शामिल रहे ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *