मिशन शक्ति अभियान के अन्तर्गत जिलाधिकारी की अध्यक्षता में कलेक्ट्रेट सभागार में हक की बात

मिशन शक्ति अभियान के अन्तर्गत जिलाधिकारी की अध्यक्षता में कलेक्ट्रेट सभागार में हक की बात

रिपोर्टर: राकेश वर्मा


आजमगढ़: उ0प्र0 सरकार द्वारा प्रदेश में महिलाओं तथा किशोरियों की सुरक्षा, सम्मान एवं स्वावलम्बन हेतु मिशन शक्ति अभियान चलाया जा रहा है। मिशन शक्ति अभियान के अन्तर्गत जिलाधिकारी राजेश कुमार की अध्यक्षता में कलेक्ट्रेट सभागार में ‘‘हक की बात जिलाधिकारी के साथ’’ कार्यक्रम आयोजित किया गया। इस अवसर पर ‘‘हक की बात जिलाधिकारी के साथ’’ कार्यक्रम में 10 महिलाओं द्वारा स्कूल में प्रवेश, आबादी, जमीन विवाद आदि शिकायतों के सम्बन्ध में उपस्थित होकर जिलाधिकारी से पारस्परिक संवाद किया गया।

जिसमें नीलम पाण्डेय सिविल लाइन, फूलमती देवी दयालपुर तहबरपुर, प्रेमशिला कुमारी ग्राम हजुल्लहपुर, संगीता वर्मा मेंहनगर, छेदी यादव, विलजहाॅ सकरामऊ, दुईजा, मालती, शिवशक्ति एवं सविता कन्धरापुर सम्मिलित रहे। इस अवसर पर शिकायतकर्ता नीलम पाण्डेय, सिविल लाइन द्वारा अवगत कराया गया कि आर्थिक स्थिति ठीक न होने के कारण बच्चों की पढ़ाई ठीक ढ़ंग से नही हो पा रही है, अपनी बच्ची चारू पाण्डेय का कक्षा 06 में केन्द्रीय विद्यालय आजमगढ़ में प्रवेश के लिए अनुरोध किया गया। जिस पर जिलाधिकारी ने जिला प्रोबेशन अधिकारी को निर्देश दिये कि उक्त आवेदन पत्र पर कार्यवाही करना सुनिश्चित करें।

शिकायतकर्ता फूलमती देवी दयालपुर तहबरपुर द्वारा अवगत कराया गया कि पट्टीदार द्वारा हमारा हौदी, खूंटा तोड़ दिया गया है, जिससे जानवर भूखे मर रहे हैं। जिस पर जिलाधिकारी ने जिला प्रोबेशन अधिकारी को निर्देश दिया कि उक्त आवेदन पत्र के निस्तारण हेतु प्रकरण को संबंधित अधिकारी को प्रेषित करना सुनिश्चित करें। इसी के साथ ही महिलाओं में यौन हिंसा, लैंगिक असमानता, घरेलू हिंसा, दहेज हिंसा, कन्या भू्रण हत्या, कार्यस्थल पर लैंगिक हिंसा संबंधी शिकायतों का निस्तारण किये जाने हेतु जिलाधिकारी ने ट्रोल फ्री हेल्पलाइन नम्बर स्थापित करने के लिए जिला प्रोबेशन अधिकारी को निर्देश दिये। जिलाधिकारी द्वारा जानकारी प्राप्त की गयी कि महिलाओं से संबंधित अबतक 01 वर्ष में कितने शिकायतें प्राप्त हुईं हैं। जिस पर जिला प्रोबेशन अधिकारी ने बताया कि कुल 400 शिकायती आवेदन पत्र प्राप्त हुआ है, जिसमें 200 आवेदन पत्र निस्तारित किया जाना अवेशष है।

जिलाधिकारी ने जिला प्रोबेशन अधिकारी को निर्देश दिये कि जो भी आवेदन पत्र लम्बित हैं, उसको विभागवार सूची बनाना सुनिश्चित करें, जिससे कि उसको बैठक कराकर लम्बित शिकायत पत्रों का निस्तारण कराया जा सके। जिलाधिकारी ने यह भी निर्देश दिये कि जो भी आवेदन पत्र अभी भी लम्बित हैं, उसे आईजीआरएस पोर्टल पर अपलोड कराना सुनिश्चित करें। जिलाधिकारी ने कहा कि महिलाओं की समस्याओं को प्राथमिकता के आधार पर निस्तारण किया जायेगा।

जिलाधिकारी ने जिला प्रोबेशन अधिकारी को निर्देश दिये कि महिलाओं की समस्याओं के निस्तारण हेतु महिलाओं की जन सुनवाई किये जाने हेतु प्रत्येक माह के दूसरे एवं चैथे मंगलवार को जिलाधिकारी की अध्यक्षता में बैठक करायें। इस अवसर पर सीओ सिटी राजेश तिवारी, प्रशिक्षु पुलिस उपाधीक्षक राजेश, जिला प्रोबेशन अधिकारी बीएल यादव, महिला कल्याण अधिकारी प्रिति उपाध्याय, जिला समन्वयक अन्नु सिंह, वन स्टाप सेन्टर के मैनेजर सरिता पाल, केस वर्कर ममता यादव, रंजना मिश्रा, स्टाफ नर्स पिंकी सिंह आदि शिकायतकर्ता व महिला आरक्षी अंशिका यादव उपस्थित रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *