समस्त गोवंश आश्रय स्थलों पर पशु चिकित्सा अधिकारी, पशुधन प्रसार अधिकारी एवं वेटेनरी फार्मासिस्टों के द्वारा बीमार पशुओं का चिकित्सा एवं कृत्रिम गर्भाधान किया गया

महेश पाण्डेय ब्यूरो चीफ

वाराणसी
मुख्य विकास अधिकारी मधुसूदन हुलगी द्वारा दिए गए निर्देश के क्रम में आज शुक्रवार को जनपद के समस्त गोवंश आश्रय स्थलों पर पशु चिकित्सा अधिकारी, पशुधन प्रसार अधिकारी एवं वेटेनरी फार्मासिस्टों के द्वारा बीमार पशुओं का चिकित्सा एवं कृत्रिम गर्भाधान किया गया। 
    विकास खंड आराजीलाइन में गोवंश आश्रय स्थलों पर पशुओं का  चिकित्सा-21 एवं कृत्रिम गर्भाधान-2 किया गया। विकासखंड बड़ागांव में गोवंश आश्रय स्थलों पर 16 पशुओं की चिकित्सा किया गया। विकासखंड चिरईगांव में गोवंश आश्रय स्थलों पर 17 पशुओं की चिकित्सा किया गया।विकासखंड चोलापुर में गोवंश आश्रय स्थलों पर 14 पशुओं का चिकित्सा किया गया। विकास खंड हरहुआ में गोवंश आश्रय स्थलों पर 13 पशुओं की चिकित्सा किया गया। विकासखंड काशी विद्यापीठ में गोवंश आश्रय स्थलों पर 20 पशुओं की चिकित्सा किया गया। विकास खंड पिंडरा में गोवंश आश्रय स्थलों पर 5 पशुओं की चिकित्सा किया गया तथा विकासखंड सेवापुरी में को आश्रय स्थलों पर 18 पशुओं की चिकित्सा किया गया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *