ADS (6)
ADS (5)
ADS (4)
ADS (3)
ADS (2)
previous arrow
next arrow
 
ADS (6)
ADS (5)
ADS (4)
ADS (3)
ADS (2)
previous arrow
next arrow
Shadow

आरओ-एआरओ व जोनल-सेक्टर मजिस्ट्रेटों का हुआ प्रशिक्षण

एआरओ व जोनल सेक्टर मजिस्ट्रेटों
  • सीडीओ प्रवीण वर्मा ने बताई निर्वाचन प्रक्रिया की हर बारीकियां
  • कहा, निर्वाचन सम्बन्धी बुकलेट को पढ़ लें ताकि नहीं रहे कोई भ्रांति

संवाददाता संजय कुमार तिवारी

बलिया: जिला निर्वाचन अधिकारी अदिति सिंह के निर्देश पर त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव को सकुशल संपन्न कराने के दृष्टिगत गुरुवार को गंगा बहुद्देश्यीय सभागार में सभी निर्वाचन अधिकारी व सहायक निर्वाचन अधिकारी एवं समस्त सेक्टर व जोनल मजिस्ट्रेट को प्रशिक्षित किया गया। मुख्य विकास अधिकारी प्रवीण वर्मा ने सभी को निर्वाचन प्रक्रिया की हर बारीकियों से अवगत कराया। कहा कि निर्वाचन से जुड़े हर कार्य में पूरी सावधानी बरतने की आवश्यकता होगी। इसलिए प्रशिक्षण के बाद अगर कोई बात समझ में ना आए तो उसे तत्काल पूछ लें। सभी आरओ-एआरओ व जोनल-सेक्टर मजिस्ट्रेट को बुकलेट दी गई है, जिसमें निर्वाचन प्रक्रिया में सबके दायित्वों से जुड़ी विस्तृत जानकारी है, उसको भी भलीभांति पढ़ लेंगे। किसी भी प्रकार की कोई भ्रांति नहीं होनी चाहिए।

प्रशिक्षण के दौरान बतौर ट्रेनर राजकीय इंटर कालेज, चितबड़ागांव के प्रधानाचार्य अतुल तिवारी ने नाम निर्देशन पत्र की विक्री, उसे प्राप्त करते समय बरती जाने वाली सावधानियां, जमानत राशि, अधिकतम व्यय सीमा सहित निर्वाचन प्रक्रिया की हर बारीकियों को विस्तार से बताया। यह भी कहा कि क्षेत्र पंचायत या ग्राम पंचायत निर्वाचन के सहायक निर्वाचन अधिकारी को अगर कहीं कोई दिक्कत आती है तो अपने निर्वाचन अधिकारी को बताएंगे और उनके दिशा-निर्देशों के अनुसार ही समस्या का निवारण सुनिश्चित कराएंगे। ट्रेनिंग के दौरान सीआरओ विवेक श्रीवास्तव, डीडीओ राजितराम मिश्रा, पीडी डीएन दूबे, कृषि अधिकारी विकेश कुमार पटेल, उप निदेशक कृषि इंद्राज व प्रशिक्षण से जुड़े अधिकारी मौजूद थे।

अनुपस्थित 26 एआरओ, 7 जोनल व 17 सेक्टर मजिस्ट्रेट से स्पष्टीकरण तलब

प्रशिक्षण की शुरुआत में ही कुछ सहायक निर्वाचन अधिकारी, जोनल व सेक्टर मजिस्ट्रेट अनुपस्थित थे, जिनसे मुख्य विकास अधिकारी प्रवीण वर्मा ने स्पष्टीकरण तलब किया है। ग्राम पंचायत निर्वाचन के रिजर्व सहित कुल 19 सहायक निर्वाचन अधिकारी प्रशिक्षण में नहीं आए थे, जबकि क्षेत्र पंचायत निर्वाचन के 5 व जिला पंचायत के 2 एआरओ गायब थे। इसी प्रकार 7 जोनल मजिस्ट्रेट व 17 सेक्टर मजिस्ट्रेट प्रशिक्षण में अनुपस्थित थे। सीडीओ ने चेतावनी दी है कि आगे से प्रशिक्षण में प्रतिभाग नहीं करने पर एफआईआर दर्ज कराने की कार्रवाई की जाएगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *