अपने निकम्मेपन का उत्सव मनाने वाली देश की पहली योगी सरकार

अपने निकम्मेपन का उत्सव मनाने वाली देश की पहली योगी सरकार

संवाददाता रंधा सिंह

चन्दौली। उत्तर प्रदेश की योगी सरकार के 4 वर्ष पूरे होने पर एक तरफ बीजेपी के कार्यकर्ताओं द्वारा मिठाईया बाट कर उत्सव मना रहे है तो दूसरी तरफ आम आदमी पार्टी चंदौली द्वारा एक प्रेस कांफ्रेंस के दौरान जिले के जाने माने वरिष्ठ अधिवक्ता आम आदमी पार्टी के जिला प्रवक्ता संतोष कुमार पाठक ने योगी सरकार पर पलटवार करते हुए उन्होनें कहा कि योगी सरकार अब तक की सबसे भ्रष्ट व असफल सरकार साबित हुई है,और अपने निकम्मेपन का उत्सव मनाने वाली देश की पहली योगी सरकार के 4 साल में किसान, बेरोजगार, आम आदमी बेहाल है. भ्रष्टाचार, बेईमानी के 4 साल का उत्सव मना रही उत्तर प्रदेश सरकार जनता से जुड़े हर मुद्दे पर पूरी तरह नाकाम साबित हुई है।

आप को बतादे की आम आदमी पार्टी के जिला मिडिया प्रभारी वरिष्ठ अधिवक्ता संतोष कुमार पाठक ने शनिवार को आयोजित प्रेस वार्ता के दौरान उन्होंने कहा कि योगी आदित्यनाथ जी के 4 साल के कार्यकाल 2017 में किए गए चुनावी वादे और 4 साल में जनता को जरूरी सुविधाओं को दिलाने में नाकामी के लिए जाना जाएगा। इस सरकार ने 2017 में उत्तर प्रदेश के किसानों की आय दोगुनी करने, किसानों की कर्ज माफी और किसानों की फसल का उचित मूल्य दिलाने की बात कही थी।

4 साल में उत्तर प्रदेश सरकार इन सभी वादों को पूरा करने में नाकाम रही है। पश्चिम से लेकर पूर्वोत्तर तक ज्यादातर किसान गन्ने की खेती करते हैं। 4 साल में योगी सरकार ने एक भी रुपए दाम में बढ़ोतरी नहीं की। दूसरी तरफ गन्ना किसानों का हजारों करोड़ का बकाया चीनी मिलों पर है। यह सरकार गन्ना किसानों के बकाए को दिलाने में नाकाम रही। किसानों को न्यूनतम समर्थन मूल्य देने में सरकार की नाकामी के चलते किसानों को अपनी फसल बिचौलियों को हाथ बेचने को मजबूर होना पड़ा। कर्ज माफी का वादा करने वाली इस सरकार के राज में कई किसानों को कर्ज के चलते आत्महत्या करनी पड़ी।

रोजगार के मुद्दे पर सरकार ने जितनी भी वैकेंसी अपने 4 साल के कार्यकाल में निकाली उसकी गलत नीतियों, भर्तियों में भ्रष्टाचार, आरक्षण की प्रक्रिया ठीक ढंग से पूरा न करने आदि के कारण सभी नियुक्तियां या तो हाई कोर्ट या सुप्रीम कोर्ट में पेंडिंग है या फिर उसकी जांच हो रही है। इन नियुक्तियों में एक भी व्यक्ति को रोजगार नहीं मिला। दूसरी तरफ सरकारी विभागों में लाखों की संख्या में पद रिक्त हैं।

जिलाध्यक्ष जितेंद्र खरवार ने कहा कि योगी आदित्यनाथ की सरकार 4 साल में खाली पदों को भरने में नाकाम रही और जब इस मांग को लेकर उत्तर प्रदेश का नौजवान आंदोलन करता है तो उसे लाठियां खानी पड़ती हैं। इस सरकार ने किसानों को भी धोखा दिया ।

दोनो नेताओं ने 2017 के घोषणा पत्र के मुताबिक सरकार की नाकामी गिनाते हुए इसे जुमला पत्र बताया। 6 फॉरेंसिक लैब बनाने की बात पर हाथरस की बेटी के साथ हुआ कांड याद दिला कर घोषणा पत्र के सुरक्षा के वादे पर सरकार को घेरा। शिक्षा, स्वास्थ्य, रोजगार जैसे मुद्दों पर बिंदुवार चर्चा करते हुए जिला मिडिया प्रभारी वरिष्ठ अधिवक्ता संतोष कुमार पाठक व जिला अध्यक्ष जितेंद्र खरवार ने यूपी सरकार की नाकामी की पूरी पोल खोल कर रख दी।

किसान आंदोलन का जिक्र करते हुए किसान हितैषी वादों पर सरकार को घेरा। रोजगार और कानून व्यवस्था पर तथ्यों के साथ योगी सरकार पर करारा वार किया। इस अवसर पर पूर्व जिलासचिव प्रवीण कुमार चौबे , दीपक कुमार सिन्हा, मेहराब अली, विकास कुमार आदि लोग मौजूद रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *