कमिश्नर ने निर्माणाधीन परियोजनाओं का किया स्थलीय निरीक्षण

कमिश्नर ने निर्माणाधीन परियोजनाओं का किया स्थलीय निरीक्षण

  • निर्माणाधीन कार्यों को युद्धस्तर पर अभियान चलाकर सुरक्षा मानकों को अपनाते हुए निर्धारित समय सीमा में पूरा कराएं-कमिश्नर
  • बेनियाबाग पार्क शहर के सेंट्रल पार्क के रूप में विकसित होगा और बनेगा पिकनिक स्पॉट
  • दशाश्वमेध शॉपिंग कांप्लेक्स का निर्माण कार्य इसी वर्ष होगा पूरा

महेश पाण्डेय ब्यूरो चीफ

वाराणसी: कमिश्नर दीपक अग्रवाल ने बेनियाबाग में 90 करोड़ की धनराशि से निर्माणाधीन पार्क एवं पार्किंग स्थल के निर्माण कार्य को युद्धस्तर पर अभियान चलाकर प्रत्येक दशा में इसी वर्ष अक्टूबर महीने तक पूरा कराए जाने की डेट लाइन निर्धारित की है। उन्होंने कहा कि कार्यदायी संस्था के अधिकारियों को निर्देशित करते हुए कहा कि इस बेनियाबाग पार्क को वाराणसी शहर का एक पिकनिक स्पॉट के रूप में विकसित किया जाए। उन्होंने मौके पर श्रमिकों की संख्या बढ़ाते हुए सुरक्षा मानकों को अपनाकर कार्य को उच्च स्तर का कराए जाने पर विशेष जोर दिया।

कमिश्नर दीपक अग्रवाल शनिवार को वाराणसी शहर में गतिमान प्रमुख निर्माणाधीन परियोजनाओं का स्थलीय निरीक्षण कर रहे थे। बेनियाबाग में निर्माणाधीन पार्क एवं पार्किंग स्थल के संबंध में बताया गया कि 47 फीसदी कार्य पूर्ण हो चुका है। कमिश्नर ने पार्क में लैंडस्कैपिंग उच्च स्तरीय कराए जाने के साथ ही वॉक-वे, फुटबॉल मैदान, वाटर स्पोर्ट्स स्थल, बच्चों को खेलने के लिए आकर्षक झूले, फूड कोर्ट, फ्लावर कोर्ट के अलावा वाटर बॉडी में बोटिंग के लिए नौका की भी व्यवस्था सुनिश्चित कराए जाने का निर्देश दिया।

उन्होंने रूप से जोर देते हुए कहा कि बेनियाबाग पार्क को जिले का सेंट्रल पार्क के रूप में विकसित किया जाए। यह शहर का लैंड मार्क हो। बेनियाबाग निर्माणाधीन पार्किंग स्थल पर 450 चार पहिया तथा 700 दोपहिया वाहन पार्क हो सकेंगे। निश्चित रूप से इन पार्किंग स्थलों के बन जाने के पश्चात शहर की यातायात व्यवस्था सुगम हो सकेगी। इसके बाद उन्होंने 23 करोड़ 67 लाख रुपए से निर्माणाधीन दशाश्वमेध शापिंग कांप्लेक्स के निरीक्षण के दौरान मौके पर 40-45 श्रमिकों द्वारा ही कार्य किए जाने पर नाराजगी व्यक्त करते हुए तत्काल श्रमिकों की संख्या बढ़ाए जाने का निर्देश दिया।

इस शॉपिंग कंपलेक्स में कुल 182 दुकानें बनाई जा रही हैं, जिनमें आसपास के क्षत्रिय दुकानदारों को शिफ्ट किया जाएगा। मौके पर मौजूद कार्यदायी संस्था के अधिकारी को कांप्लेक्स के निर्माण कार्य को व्यक्तिगत रूचि लेते हुए इसी वर्ष पूरा कराए जाने की सख्त हिदायत दी। उन्होंने मौके पर 15 दिन बाद पुनः आने की हिदायत देते हुए कहां की पाक्षिक कार्य योजना तैयार किया जाए और श्रमिकों की संख्या बढ़ाकर तेजी लायी जाए।

दशाश्वमेध वार्ड के हो रहे विकास कार्य के निरीक्षण के दौरान उन्होंने जमीन का समतलीकरण मानक के अनुरूप कराए जाने पर विशेष जोर देते हुए लगाए जा रहे पत्थर चौकों को व्यवस्थित तरीके से लगाए जाने का निर्देश दिया। टूरिज्म डेवलपमेंट वर्क आफ गोदौलिया-चौक से दशाश्वमेध घाट तथा एबीडी रोड अंतर्गत मैदागिन से गोदौलिया निर्माण कार्य का उन्होंने पदयात्रा कर निरीक्षण किया।

गढ़वासी टोला वार्ड में कराए जा रहे विकास एवं निर्माण कार्यों का भी निरीक्षण किया। स्मार्ट सिटी योजना अंतर्गत लगभग 26 करोड़ रुपए लागत से निर्माणाधीन टाउनहॉल पार्किंग स्थल के निरीक्षण के दौरान लैंड स्केपिंग मानक के अनुरूप कराए जाने के साथ ही समय सीमा में पूरा कराए जाने पर जोर दिया।

निरीक्षण के दौरान नगर आयुक्त गौरांग राठी सहित कार्यदायी संस्थाओं के अभियंता प्रमुख रूप से उपस्थित रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *