ढाई वर्ष से विक्षिप्त भाई को देखकर निकल पड़े आंसू

ढाई वर्ष से विक्षिप्त भाई को देखकर निकल पड़े आंसू


समाजसेवी के मदद से पहुचा युवक घर।

महेश पाण्डेय ब्यूरो चीफ

वाराणसी/पिंडरा। मानसिक स्थिति ठीक न होने से घर से निकले युवक के परिजन में उस समय खुशी के आंसू निकल आये जब एक समाजसेवी के माध्यम से ढाई वर्ष से घर से लापता भाई को सामने देखा। परिवार के लोग कभी भाई को गले लगाकर रहे थे तो कभी समाजसेवी आशुतोष सिंह को। परिजन गुरुवार को मानसिक रूप से विक्षिप्त युवक को लेकर घर को रवाना हो गए।

बताया जाता है कि विकास यादव पुत्र श्यामदेव यादव निवासी ग्राम कोकरसा भगवानपुर जहानाबाद बिहार निवासी युवक की मानसिक स्थिति ठीक नही थी। ढाई वर्ष पूर्व घर से बाजार के लिए निकला युवक भटका गया और घूमते घूमते पिंडरा बाईपास पर स्थित बेलवा ओवरब्रिज के पास मरणासन्न अवस्था पर एक पखवाड़े से पड़ा था। तभी उसपर नजर रामपुर निवासी आशुतोष सिंह उर्फ मनीष की पड़ी।

इसके बाद अपने सहयोगियों को सूचना दिया और बदबू के बीच उसे नहला कर सैलून में बाल कटवा कुछ न बोल सकने वाले युवक को लेकर तहसील पिंडरा पहुचे उसके बाद वहा से थाने पहुचे। सभी लोग परेशान थे तभी मानसिक रूप से विक्षिप्त युवक ने इशारे से कुछ लिखने के लिए पेन कापी मांगा। उसने जब अपने घर का पता और मोबाइल नंबर दिया तो पुलिसकर्मियों ने उसके घर वालो से बात की। उसके बाद घर के लिए समाजसेवी आशुतोष सिंह के घर बुधवार की रात्रि में पहुचे।

इस दौरान गांव के दर्ज़नो लोग इस नेक कार्य की सराहना देते हुए जहाँ बधाई दी वही परिजनों के आंखों में आंसू झलक आये। यही नही उक्त युवक को लेकर हिन्दू जागरण मंच के प्रांत मंत्री गौरीश सिंह, आशुतोष सिंह, प्रवीण तिवारी, अमित सिंह व घनश्याम सिंह उसे अपने वाहन से लेकर जहानाबाद बिहार ले गए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *