स्वच्छ भारत मिशन शौचालय में घपलेबाजी का खेल

स्वच्छ भारत मिशन शौचालय में घपलेबाजी का खेल

  • रिटायर्ड डीआईजी के नाम पास शौचालय आरटीआई में हुआ खुलासा।
  • संवाददाता विनोद कुमार सिंह

सेवापुरी/वाराणसी: प्रधानमंत्री के स्वच्छ भारत मिशन योजना के तहत बन रहे शौचालयो व आवास में लाखों के घपले बाजी का मामला सामने आया है। आश्चर्यचकित कर देने वाली बात तो यह है कि रिटायर्ड डीआईजी सहित दर्जनों लोगों के नाम शौचालय कागजी कार्रवाई में पूर्ण करा लिया गया है लेकिन वर्तमान में धरातल पर कुछ भी नहीं देखने को मिला l इसका खुलासा आरटीआई द्वारा सामने आया है।

मिली जानकारी के अनुसार सेवापुरी विकासखंड के राखी नेवादा गांव निवासी समाजसेवी दिलीप कुमार दीक्षित ने वित्तीय वर्ष 2010 से लेकर 2020 तक की आरटीआई के तहत विकास संबंधी जानकारी दो-तीन माह पूर्व मांगा था आरटीआई द्वारा मिली जानकारी में पूर्व प्रधान प्रतिनिधि शशिकांत यादव उर्फ मकालू तथा वर्तमान प्रधान विजय कुमार राम के द्वारा रिटायर डीआईजी विजय कुमार दीक्षित, संतोष कुमार दीक्षित तथा दिलीप के साथ-साथ दर्जनों लोगों का नाम शौचालय सूची में बनकर तैयार हो जाने की रिपोर्ट पाई गई लेकिन वर्तमान समय में किसी के पास शौचालय नहीं बना है जिससे लाखों का घपले बाजी सामने आया है विदित हो कि समाज सेवी दिलीप द्वारा जब आरटीआई के तहत शौचालय व आवास में घपले बाजी की खुलासा की गई तो भ्रष्टाचार मे लिप्त प्रधानो मे हडकंप मच गया l

और दबंग प्रधानो ने दिलीप के घर पर चढ़कर गाली गलौज करते हुए जान से मारने की धमकी व जांच न कराने की हिदायत भी दे डाली l जिससे भयभीत दिलीप ने विगत पाँच फरवरी 2021 को जिलाधिकारी वाराणसी के यहां भ्रष्टाचारियों के खिलाफ कार्रवाई करने व सुरक्षा प्रदान करने की गुहार लगाई है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *