कोविड-19 महामारी के दौरान उन्हें जेल भेजना मौत की सजा के बराबर है: पूर्व राष्ट्रपति जैकब जुमा

कोविड-19 महामारी के दौरान उन्हें जेल भेजना मौत की सजा के बराबर है: पूर्व राष्ट्रपति जैकब जुमा

जोहानिसबर्ग. दक्षिण अफ्रीका (South Africa) के पूर्व राष्ट्रपति जैकब जुमा (Jacob Zuma) ने कहा कि कोविड-19 महामारी के दौरान उन्हें जेल भेजना मौत की सजा के बराबर है. इस बीच, उनके घर के बाहर उनके समर्थकों ने मानव श्रृंखला बना पुलिस को उन्हें गिरफ्तार करने से रोका.

जुमा ने क्वाज़ूलू-नताल प्रांत के कांडला स्थित अपने घर से रविवार शाम पत्रकारों को संबोधित किया. इससे पहले देश की शीर्ष अदालत ने उन्हें खुद को पुलिस के हवाले करने को कहा, ताकि उनकी 15 साल कैद की सजा पूरी हो सके.

उन्होंने कहा, ‘‘वैश्विक महामारी का कहर चरम पर होने के दौरान मेरी उम्र के शख्स को जेल भेजना मौत की सजा के बराबर है. दक्षिण अफ्रीका में 1995 में मौत की सजा को असंवैधानिक घोषित कर दिया गया था.’’

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *