आरपीएफ ने ई-टिकट के अवैध कारोबार का भंडाफोड़ करते हुए दो अभियुक्तों को गिरफ्तार किया

आरपीएफ ने ई-टिकट के अवैध कारोबार का भंडाफोड़ करते हुए दो अभियुक्तों को गिरफ्तार किया

संवाददाता रन्धा सिंह

चंदौली। आरपीएफ डीडीयू मंडल ने बबुरी थाना क्षेत्र में रेलवे ई-टिकट के अवैध कारोबार का भंडाफोड़ करते हुए दो अभियुक्तों को गिरफ्तार किया।साथ ही छापेमारी में दस हजार रुपये से अधिक के नए और पुराने टिकट बरामद किए गए। उतरौत बाजार के लेवा-तियरा रोड पर संचालित सहज जनसेवा केंद्र में यह अवैध कारोबार फल-फूल रहा था। स्थानीय पुलिस ने भी रेलवे सुरक्षा बलों का सहयोग किया।

इंस्पेक्टर डीडीयू पोस्ट संजीव कुमार ने बताया कि वरीय मंडल सुरक्षा आयुक्त आशीष मिश्रा के निर्देश पर रेलवे के टिकटों का अवैध कारोबार करने वालो के विरुद्ध लगातार अभियान चलाया जा रहा है। मुखबिर से मिली सूचना के आधार पर बबुरी क्षेत्र के उतरौत बाजार स्थित लेवा- तियरा रोड पर सहज जनसेवा केंद्र एक्सपर्ट इंटरनेट जोन एंड डिजिटल स्टूडियो में छापेमारी की गई। एक ही दुकान पर दो युवक अलग-अलग काउंटर लगाकर अलग अलग रजिस्ट्रेशन के साथ ई-टिकट का अवैध कारोबार करते हुए मौके से पकड़े गए। दोनों व्यक्तियों के द्वारा अलग-अलग आईआरसीटीसी का यूजर आईडी लेकर, व्यक्तिगत यूजर आईडी बनाकर ई-टिकट बनाते थे।

आरोपित मकरध्वज निवासी उतरौत के पास से कुल चार ई-टिकट और तीन पुराने टिकट बरामद हुए, जिनका कुल मूल्य 5560 तथा अभियुक्त के पास से नगद -8600 बरामद किया गया।

आरपीएफ ने कंप्यूटर लैपटॉप, मोबाइल सहित अन्य उपकरण जब्त कर लिए। वहीं दूसरे आरोपित अमरेश कुमार निवासी उतरौत के पास से दो ई और पांच पुराने ई-टिकट जिसका मूल्य र-5968 तथा नगद -1000 मिले। अभियान में उपनिरीक्षक कन्हैया लाल सिंह, उपनिरीक्षक अमरजीत
दास, प्रधान आरक्षी योगेंद्र बहादुर सिंह आदि शामिल रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *