विराट महायज्ञ के साथ गो रक्षा के लिए लिया संकल्प

विराट महायज्ञ के साथ गो रक्षा के लिए लिया संकल्प

महेश पाण्डेय ब्यूरो चीफ

वाराणसी: पिंडरा क्षेत्र के कठिराँव नकटी स्थित शक्ति पीठ मां नकटेश्वरी धाम में मंगलवार को गौ हत्या को पूर्ण रूप से बंद कराने के उद्देश्य विराट महायज्ञ का आयोजन किया गया। इस यज्ञ के आयोजक राष्ट्रीय गो रक्षा संघ के संस्थापक व श्री चंचल मठ पटना बिहार के स्वामी जनार्दन देव ने बताया कि हमारी गौ माता की हत्या जिस तरह से हो रही है । उससे मेरा सनातन धर्म पतन की ओर जा रहा है। इसे रोकने के लिए अब एक मात्र सहारा रह गया है विराट महायज्ञ।

इसकी शुरुआत मां नकटेश्वरी धाम से शुरू कर पूरे देश में चलाया जाएगा। उन्होंने बताया कि हमारा देश की संस्कृति व सभ्यता नष्ट हो रही है। गोवंश आधारित हमारी खेती, रहन सहन व परम्परा खत्म हो रही है। कहने को तो हम आजाद है लेकिन अग्रेजो ने जाते वक्त 300 कसाई खाने खोल कर गए थे, आज पूरे देश मे 4 हजार लाइसेंसी व 25 हजार गैर लाइसेंसी कसाई खाने चल रहे हैं। सभी भारतीयों व सनातन संस्कृति को मानने वालों को गोरक्षा के लिए आगे आने को जरूरत है। वरना देश की संस्कृति व परंपरा नष्ट हो जाएगी। इस दौरान मन्दिर के महंत के रूप में अनिल दास शास्त्री उर्फ बन्धु गुरु की महंती तिलक व चादर पोशी की गई।

एक दिवसीय महायज्ञ में क्षेत्र के दर्ज़नो लोगों ने आहुति दी और गो रक्षा के लिए संकल्प लिया। ततपश्चात विशाल भंडारे का आयोजन किया गया। महायज्ञ में पटना से आये दर्ज़नो साधुओं के जत्थे ने भी आहुति दी। इस दौरान राष्ट्रीय गो रक्षा संघ से जुड़े रजनीकांत उपाध्याय, पद्मनाभ जी,मैथली जी,पूर्व ब्लॉक प्रमुख बाबा सिंह, रमाशंकर पांडेय, ग्राम प्रधान हैदर अली शास्त्री, रामजी पांडेय, अनिल पांडेय, जयशंकर तिवारी , राका पांडेय समेत अनेक साधु संत व गणमान्य लोग उपस्थित रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *