अनुसूचित जाति प्रकोष्ठ के प्रदेश उपाध्यक्ष के पद से हटाए गए

अनुसूचित जाति प्रकोष्ठ के प्रदेश उपाध्यक्ष के पद से हटाए गए

रिपोर्टर: राकेश वर्मा / आजमगढ़: राम मंदिर निर्माण को लेकर कॉन्ग्रेस नेता के चंदा देने वह उनको पार्टी में पद मुक्त करने का मामला आजमगढ़ में थमता नजर नहीं आ रहा है। कांग्रेस पार्टी के पिछड़ा वर्ग व अनुसूचित जाति प्रकोष्ठ के प्रदेश उपाध्यक्ष के पद से हटाए गए पंकज मोहन सोनकर को उनके पद पर बहाल करने की मांग को लेकर एनएसयूआई के पदाधिकारी व कार्यकर्ताओं ने कांग्रेस पार्टी जिला कार्यालय पर प्रदर्शन किया।

कांग्रेस पार्टी के युवा संगठन एनएसयूआई के प्रदेश महासचिव आर्यन गौड़ के नेतृत्व में कार्यकर्ताओं ने प्रदर्शन किया। कहा कि पंकज मोहन सोनकर कांग्रेस के वरिष्ठ नेता हैं और पिछले लोकसभा चुनाव में आजमगढ़ के लालगंज सीट से कांग्रेस के प्रत्याशी भी रह चुके हैं। उनको निष्क्रिय बताकर पद मुक्त करना कहीं ना कहीं पार्टी के दलित नेता के खिलाफ साजिश है और इसकी युवा कांग्रेसी निंदा करते हैं।

जबसे उन्होंने राम मंदिर निर्माण में चंदा दिया है तभी से पार्टी में उनके विरूद्ध तमाम बातें हो रही हैं जबकि पंकज मोहन सुनकर पार्टी के सभी कार्यक्रमों में उपस्थित रहते हैं व उनकी निरंतर सक्रियता रहती है। पिछले 6 महीनों में उन्होंने पार्टी में सैकड़ों कार्यकर्ताओं को जोड़ने का काम किया है। इसके बाद भी जिला कांग्रेस कमेटी के प्रवक्ता को कोई अधिकार नहीं है कि उनकी सक्रियता के ऊपर सवाल उठाए।

युवा कांग्रेसियों ने पार्टी की राष्ट्रीय महासचिव प्रियंका गांधी को पत्र लिखकर मांग की है कि उनके विरुद्ध की गई साजिश की जांच हो तथा उनके पद को वापस दिया जाना चाहिए अन्यथा पंकज मोहन के सम्मान में कई युवा नेता अपने पद व सदस्यता से इस्तीफा देने को बाध्य होंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *