सत्रह राजस्व गांवों के गरीब आयुष्मान कार्ड से आज भी वंचित

सत्रह राजस्व गांवों के गरीब आयुष्मान कार्ड से आज भी वंचित

रिपोर्टर प्यारेलाल यादव


चिरईगांव: विकास खण्ड के सत्रह राजस्व गांवों के गरीब लोगों को प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना के तहत मुफ्त पांच लाख तक इलाज के लिए बनने वाले आयुष्मान कार्ड से आज भी वंचित रहना पड़ रहा है। इसका कारण इन गांव के लाभार्थियों के नाम ही सूची में नहीं दर्ज होना बताया जा रहा है। विकास खण्ड के भगतुआ, रामगढ़वा, पूरनपट्टी, कमौली, चुहरपुर, देवरिया, अमौली, सरसौल, पंडितपुर, गंगवार, कूड़ाव, झांझूपुर बीकापुर, इमिलिया हृदयपुर सहित सत्रह राजस्व गांवों की सामाजिक, आर्थिक, जातिगत जनगणना 2011 की सूची ही नहीं उपलब्ध है। जिसका खामियाजा इन गांव के गरीब आज भी भुगत रहे हैं।

अट्ठारह सौ अड़तालीस लाभार्थियों का बनेगा आयुष्मान कार्ड
प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना के तहत विकास खण्ड के अवशेष 1848 परिवारों का आयुष्मान कार्ड बनेगा। सहायक शोध अधिकारी अजय कुमार चौबे ने बताया विकास खण्ड में कुल 14462 परिवारों का आयुष्मान कार्ड बनाने का लक्ष्य था। जिसमें 3242 परिवारों का डाटा मिसमैच 131 की मृत्यु और 751 परिवारों में से 8490 का आयुष्मान कार्ड बन चुका है। वर्तमान समय में 1848 परिवारों के कार्ड बनाने की प्रक्रिया चल रही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *