पूर्व सांसद को पुलिस ने घर पर किया नजरबंद, सपाई हुये आक्रोशित

पूर्व सांसद को पुलिस ने घर पर किया नजरबंद, सपाई हुये आक्रोशित

Advertisement

महेश पाण्डेय ब्यूरो चीफ

वाराणसी/पिंडरा। दिल्ली में किसान ट्रैक्टर रैली व तहसील स्तर पर सपाइयों के ट्रैक्टर रैली को देखते हुए मंगलवार को पुलिस प्रशासन सक्रिय रही। पिंडरा तहसील के कठरेवा निवासी व तीन बार सपा से सांसद रहे तूफानी सरोज को फूलपुर व जलालपुर पुलिस ने सुबह ही उनके निकलने के पहले ही उनके घर पहुच गई और घर मे ही नजरबंद कर दिया। इसकी जानकारी जब सपा कार्यकर्ताओं को हुई तो दर्ज़नो की संख्या में उनके घर पहुच गए और सरकार के विरोध में नारेबाजी करते हुए वही धरने पर बैठ गए।

सुबह साढ़े 10 बजे पूर्व सांसद द्वारा घर से एक किमी दूर स्थित अपने कॉलेज में प्रतिवर्ष की तरह इस वर्ष भी झंडा फहराने की बात कर जाने लगे तो पुलिस ने रोक लिया। लेकिन इस पर सपाई और पूर्व सांसद नाराज हो गए तो पुलिस बैकफुट पर आ गई और अपने साथ लेकर उन्हें उनके कॉलेज पर जाकर झंडारोहण कराया फ़िर वापस घर लाये।

इस दौरान उनके साथ साथ सपाई भी लगे रहे। जिसमे पूर्व विस् अध्यक्ष कमलेश पटेल, डॉ विनोद भास्कर, चंद्रशेखर सरोज, गुड्डू राजभर, श्रीनाथ गोंड़, मनोज राजभर, सत्य प्रकाश, चंद्रदेव पाल, डॉ सुरेश पटेल, सिकंदर मिश्रा व रवींद्र यादव गुड्डू व सुरेश यादव सहित दर्जनों कार्यकर्ताओं रहे।

इसके अलावा विस् अध्यक्ष ऊदल सिंह पटेल तथा नन्दलाल जायसवाल व अजय सिंह विषेन को भी पुलिस ने उनके घर पर नजरबंद कर दिया। पूरे दिन सपाई व पुलिस के बीच लुका छिपी का खेल चलता रहा। जब सुरक्षा व्यवस्था को धता बताकर तहसील पहुचे सपाई पिंडरा तहसील पहुचने वाले दोनों छोर पर पुलिस एक तरफ मिराशाह तो दूसरे तरफ पिंडरा में बैरिकेडिंग कर हर आने जाने वालों के ऊपर निगाह रखी हुई थी।

लेकिन उसी बीच तहसील के पीछे के रास्ते से महिला आयोग की पूर्व सदस्य कुसुम प्रजापति व कार्यकर्ता कुर्बान अली पैदल ही तहसील पहुच गए और ज्यो ही सपा झंडा निकालने लगे पुलिस ने उन्हें पकड़ लिया और चेतावनी देकर वापस कर दिया। वही सपा के तहसील पर रैली को देखते हुए एसडीएम पिंडरा जयप्रकाश और सीओ पिंडरा अभिषेक पांडेय पूरे दिन क्षेत्र में चक्रमण करते रहे। पुलिस के तमाम प्रयास के बाद भी गांवो में किसान नेता तिरंगा लेकर जुलूस के रूप में निकले।

VV Subscription Form scaled

प्रिय मित्रों: अगर आप एक अच्छे लेखक है तो आप हमें संपादकीय लिख कर या किसी भी मुद्दे से संबधित अपनी राय, सुझाव और प्रतिक्रियाएं हमारे ई-मेल पर भेज सकते हैं । अगर हमारें संपादक को अपका लेख या मुद्दा सही लगा तो हम आपके मुद्दे को अपने समाचार पत्र एवं वेबसाइटपर प्रकाशित किया जाएगा। आप अपना पूरा नाम,फोटो व स्थान का नाम जरुर लिखकर भेजें। अन्यथा उसके लेख एवं मुद्दे को प्रकाशित नहीं किया जाएगा।

Email: vashishthavani.news@gmail.com

वशिष्ठ वाणी भारत का प्रमुख दैनिक समाचार पत्र हैं, जिसमें हर प्रकार के समसामायिक-राजनीति, कानून-व्यवस्था न्याय-व्यवस्था, अपराध, व्यापार, मनोरंजन, ज्ञान-विज्ञान, खेल-जगत, धर्म, स्वास्थ्य व समाज से जुडे हुये हर मुद्दों को निष्पक्ष रुप से प्रकाशित किया जाता हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *