पीएनबी बैंक मैनेजर की गोली मारकर हत्या कर लूट का खुलासा।

पीएनबी बैंक मैनेजर की गोली मारकर हत्या कर लूट का खुलासा।

महेश पाण्डेय ब्यूरो चीफ

बीते दिनांक 09.06.2021 को सायं PNB बैंक शाखा करखियाँव, थाना फूलपुर जनपद वाराणसी के बैंक मैनेजर श्री फूलचन्द राम निवासी ग्राम कुसिया, थाना जलालपुर, जनपद जौनपुर की स्कार्पियो सवार अज्ञात हमलावरों द्वारा गोली मारकर हत्या किये जाने के सम्बन्ध में थाना फूलपुर जनपद वाराणसी में मु0अ0स0 188/2021 धारा 364/302 भादवि0 का अभियोग पंजीकृत किया गया है। विवेचना प्रभारी निरीक्षक फूलपुर श्री दुर्गेश कुमार मिश्र द्वारा की जा रही है ।
घटना की सूचना प्राप्त होते ही वरिष्ठ अधिकारियों द्वारा तत्काल घटना स्थल का निरीक्षण करते हुये त्वरित अनावरण हेतु प्रत्येक बिन्दु पर गहराई से छान -बीन करने हेतु विस्तृत दिशा –निर्देश प्रदान किये गये ।
पुलिस की तत्परता से स्कार्पियो में से खोखा कारतूस के साथ एक झोले में रखा छूटा हुआ कैश बरामद किया गया । कैश की जांच व अग्रिम कार्यवाही हेतु PNB बैंक के क्षेत्रीय अधिकारियों द्वारा उक्त पैसो से भरा थैला कब्जे में लिया गया ।
अपर पुलिस महानिदेशक वाराणसी जोन, तथा पुलिस महानिरीक्षक महोदय वाराणसी परिक्षेत्र, वाराणसी व पुलिस अधीक्षक वाराणसी ग्रामीण के कुशल दिशा -निर्देशन तथा अपर पुलिस अधीक्षक ग्रामीण व क्षेत्राधिकारी पिण्डरा के निकट पर्यवेक्षण में प्रभारी निरीक्षक /विवेचक तथा अनावरण में लगी क्राइम ब्रांच व अन्य टीमों द्वारा दिन-रात अथक प्रयास कर उक्त सनसनी खेज घटना का त्वरित अनावरण किया गया । विस्तृत विवरण निम्नवत है –
घटना स्थल के अवलोकन, वादी , बैंक कर्मचारियों के बयान व CCTV फुटेज के अवलोकन से यह पता चला कि बैंक मैनेजर श्री फूलचन्द राम द्वारा घटना के दिन पूर्वाह्न में पीएनबी की मडियाहूं शाखा से कुल 41 लाख रुपये करखियाँव शाखा मे जमा करने हेतु निकाले गये। करखियाँव आने पर मैनेजर द्वारा भौतिक रुप से कैश जमा किये विना ही बाउचर में 41 लाख रुपये जमा दिखाये गये ।इसके बाद मैनेजर द्वारा 6 लाख रुपये कैशियर से और लिये गये ।लगभग 5:40 के बीच मैनेजर श्रीराम, सुनील कुमार पटेल नामक व्यक्ति के साथ दो झोलों में पैसा लेकर बाहर निकले और खुद की बुलायी स्कार्पियो जिसे संजय पटेल चला रहा था ,में बैठ गये।कैथौली तिराहे के पास स्थित पटेल ढाबा के पास एक स्कार्पियो पहले से खडी थी जिसमें चार व्यक्ति सवार थे ।वही पर संजय और सुनील के परिचित व दोस्त मुकेश एवं अतुल विश्वकर्मा ,भी खड़े थे । उक्त स्कार्पियो में सवार व्यक्ति मुकेश के बुलाने पर आये थे । पटेल ढाबा के पास कुछ देर तक मैनेजर व उनके साथ के व्यक्तियों तथा दूसरे स्कार्पियो में सवार व्यक्तियों के बीच वार्ता होती रही ।इसके बाद दूसरी स्कार्पियो में से दो व्यक्ति उतर कर मैनेजर फूलचन्द्र राम वाली स्कार्पियो में पिछली सीट पर मुकेश के साथ बैठ गये ।मैनेजर आगे बैठे और संजय गाडी चला रहा था,कैश से भरे बैग मैनेजर ने अपने पैर के पास रखे थे ।सुनील और अतुल विश्वकर्मा बाहर से आयी उक्त स्कार्पियो में बैठ गये । इस स्कार्पियो में आगे वाली सीट तथा ड्राईबर की सीट पर दो अज्ञात व्यक्ति पहले से बैठे थे ।मैनेजर वाली स्कार्पियो आगे-आगे चलने लगी और उसके पीछे-पीछे बाहर से आयी दूसरी स्कार्पियो चलने लगी ।कैथौली तिराहे से हाईबे पर उक्त दोनों गाडियाँ जौनपुर की तरफ मुडकर आगे जाने लगी ।पिण्ड्राई मोड़ स्थित हाईबे पर मैनेजर वाली स्कार्पियो में ड्राईबर की सीट के पीछे बैठे अज्ञात व्यक्ति ने मैनेजर को कनपटी के पास गोली मार दी ।गोली मारते ही उक्त दोनों अज्ञात अभियुक्त कैश से भरा एक बैग लेकर उतर गये और पीछे आ रही अपनी स्कार्पियो में बैठे सुनील व अतुल विश्वकर्मा को उतार कर उसमें बैठकर जौनपुर की ओर फरार हो गये ।
घटना के बाद सुनील और संजय पहले भागे लेकिन भीड़ और पुलिस के आ जाने के बाद पुनः गाडी के पास आ गये। प्रारम्भिक पूछताछ के बाद कैश से भरा उक्त बैग,जो स्कार्पियो मे मैनेजर के पैर के पास ही रखा गया हुआ था ,को बैंक अधिकारियों को आवश्यक सत्यापन हेतु सुपुर्द किया गया। सत्यापन के बाद उक्त बैग में 27 लाख रुपये पाये गये ।
विस्तृत पूछताछ से पता चला कि स्कार्पियो का ड्राईबर संजय कुमार पटेल पुत्र अशोक कुमार पटेल निवासी ग्राम फूलपुर थाना फूलपुर जनपद-वाराणसी व इसके साथी मुकेश पाल एवं अतुल सिंह द्वारा CSR फंड ट्रांजेक्शन के नाम पर पैसा को दोगुना करने का लालच दिखाकर पैसा ठगने के सम्बन्ध में पिछले कई महीनों से नये –नये लड़कों को गैंग मे शामिल कर जनता के व्यक्तियों से फ्राड करने की साजिश रची जा रही है। इन लड़कों में अतुल विश्वकर्मा पुत्र लालबहादूर विश्वकर्मा निवासी ग्राम रमईपुर पिण्डरा थाना फूलपुर जनपद-वाराणसी,संजय कुमार पटेल पुत्र अशोक कुमार पटेल निवासी ग्राम फूलपुर थाना- फूलपुर जनपद-वाराणसी के द्वारा अतुल कुमार सिंह पुत्र स्व0 दिनेश सिंह निवासी ग्राम रमईपुर पिण्डरा थाना फूलपुर जनपद-वाराणसी के साथ पिण्डरा में मीटिंग की गयी कि कैसे CSR फंड में पैसा दोगुना करने के नाम पर किसी बड़ी पार्टी का प्रबन्ध किया जाय । इसके पश्चात संजय पटेल द्वारा सुनील से संपर्क किया गया कि कोई बडी पार्टी जो बड़े धन का इन्तजाम कर सके तत्पश्चात सुनील कुमार पटेल द्वारा अतुल सिंह व अतुल विश्वकर्मा के कहने पर बैंक मैनेजर को इस योजना में शामिल करके धन दोगुना करने का लालच दिया गया।
अतुल सिंह द्वारा बताया गया कि इस योजना के पैसा दोगुना करने की एक अन्य पार्टी की जरुरत होती है जिसके लिये मुकेश पाल पुत्र हेमराज पाल निवासी बलरामपुर पोस्ट बिरांव थाना बड़ागांव जनपद-वाराणसी ने एक अन्य पार्टी को तैयार करने का जिम्मा लिया इसी कार्य हेतु होटल चंद्रा इन वाराणसी में 8 जून को दोपहर आदर्श श्रीवास्तव उर्फ शिवा पुत्र सुधीर श्रीवास्तव निवासी लहरतारा थाना मडुआडीह जनपद-वाराणसी और आलोक राय के साथ एक मीटिंग की गयी ।
घटना के दिन योजना के मुताबिक संदहा चौराहा पर मुकेश पाल पुत्र हेमराज पाल ग्राम बलरामपुर थाना बड़ागांव जनपद-वाराणसी ग्रामीण की आलोक राय के साथ मीटिंग हुई । यहाँ पर मुकेश ने अतुल सिंह पुत्र स्व0 दिनेश सिंह निवासी रमईपुर पिण्डरा थाना फूलपुर जनपद-वाराणसी से बात करके आलोक राय के माध्यम से किसी भी तरह बैंक मैनेजर से पैसा छीनने की योजना बनायी गयी । आलोक राय ,आदर्श श्रीवास्तव उर्फ शिवा तथा मुकेश पाल द्वारा योजना बनायी गयी कि पैसा दोगुना करने के नाम पर मैनेजर को भरोसे में लेकर किसी एकान्त जगह पर ले जाया जाय और मौका देखकर पैसा छीन लिया जाय। आलोक राय ने स्कार्पियो से बाहर की पार्टी बुलायी और कहा यही पार्टी है जो पैसा दोगुना करेगी इसी को बताकर साथ लगाकर घटना को अन्जाम देना है। तत्पश्चात मुकेश पाल द्वारा अपनी गाडी से कैथौली तिराहा पिण्डरा पहुँचकर सुनील कुमार पटेल ,संजय कुमार पटेल तथा अतुल विश्वकर्मा के साथ पैसा दोगुना करने की योजना को बताया गया कि बैंक मैनेजर को लेकर बाहर आ जाये पार्टी का इन्तजाम हो गया है ।इस पर सुनील कुमार पटेल बैंक मैंनेजर को विश्वास में लेकर कैश सहित संजय के साथ स्कार्पियो में सवार होकर कैथौली तिराहा पटेल ढाबा पर पहुंचा । वहाँ पर मुकेश पाल योजना के मुताबिक स्वयं तथा आलोक राय द्वारा लायी गयी पार्टी के दो सदस्यों के साथ मैनेजर की स्कार्पियो में बैठ गया ।पार्टी द्वारा लायी गयी स्कार्पियो में मैनेजर की स्कार्पियो में से उतर कर सुनील कुमार पटेल तथा पहले से खड़े अतुल विश्वकर्मा बैठ गये । पहले वाराणसी चलने की बात हुई किन्तु मैनेजर ने गाडी को जौनपुर की तरफ मुडवा दिया और कहा गया कि बैंक मे चलकर सारी बातें करेगें ।योजना के मुताबिक मुकेश पाल मैनेजर की स्कार्पियो मे बीच में बैठा था उसके बायें बैठे व्यक्ति के इशारे पर मुकेश के दाहिने तरफ बैठे व्यक्ति ने बैंक मैनेजर के सिर मे गोली मार दी और एक कैश से भरा बैग लेकर पीछे चल रहे स्कार्पियो मे मुकेश पाल के साथ ही जौनपुर की ओर भाग गये ।मुकेश पाल ने घटना के बारे में अतुल सिंह को बताया और हत्या करने वाले अपराधी ने घटना की जानकारी आलोक राय को दी।
इस प्रकार अब तक की विवेचना व पूछताछ से यह स्पष्ट हुआ कि आलोक राय इस पूरे गिरोह का सरगना व मास्टर माइन्ड है ,जिसकी साजिश से अतुल सिंह, मुकेश पाल , शिवा ,संजय कुमार पटेल, अतुल विश्वकर्मा,और सुनील पटेल तथा चार अज्ञात अभियुक्तों द्वारा उक्त घटना को अन्जाम दिया गया। आलोक राय के द्वारा बनायी गयी योजना के मुताबिक चार अज्ञात अभियुक्तों ने लूट करने के साथ मैनेजर की हत्या कर दी । पुलिस की टीमों द्वारा तत्परता पूर्वक कार्यवाही करते हुये अभियुक्त शिवा,मुकेश पाल, अतुल सिंह ,अतुल विश्वकर्मा, संजय पटेल व सुनील कुमार पटेल को गिरफ्तार करते हुए घटना से सम्बन्धित सम्पूर्ण षड़यन्त्र का पर्दाफाश कर दिया गया है । विवेचना से धारा 364 भा0द0वि0 का लोपट एवं धारा 406/420/394/120बी भा0द0वि0 की बृद्धि की गयी है। अभियुक्त आलोक राय के सम्बन्ध में पुलिस को महत्वपूर्ण लीड मिली है ,शीघ्र ही उसे व उसके अज्ञात साथियों को गिरफ्तार कर शेष लूटी गयी रकम की बरामदगी भी कर ली जायेगी।

गिरफ्तार अभियुक्तों का विवरण –
1- शिवा श्रीवास्तव उर्फ आदेश श्रीवास्तव पुत्र सुधीर श्रीवास्तव निवासी लहरतारा, थाना मडुआडीह, जनपद-वाराणसी।
2- मुकेश पाल पुत्र हेमराज पाल ग्राम बलरामपुर, थाना बड़ागांव, जनपद-वाराणसी।
3- अतुल सिंह पुत्र स्व0 दिनेश सिंह निवसी ग्राम रमईपुर पिण्डरा, थाना फूलपुर, जनपद-वाराणसी।
4- अतुल विश्वकर्मा पुत्र लालबहादूर विश्वकर्मा निवासी ग्राम रमईपुर पिण्डरा थाना फूलपुर जनपद-वाराणसी।
5- संजय पटेल पुत्र अशोक कुमार पटेल निवासी ग्राम फूलपुर थाना- फूलपुर जनपद-वाराणसी।
6- सुनील कुमार पटेल पुत्र प्रेम प्रसाद पटेल निवासी ग्राम फूलपुर थाना फूलपुर जनपद वाराणसी।

गिरफ्तार करने वाले टीम का विवरण-
निरीक्षक दुर्गेश कुमार मिश्र –फूलपुर के नेतृत्व में उ0नि0 कुलदीप मिश्रा, उ0नि0 अरविन्द यादव व थाने की टीम।
निरीक्षक अश्वनी कुमार के नेतृत्व में स्वात टीम कमिश्नरेट वाराणसी।निरीक्षक विनीत राय के नेतृत्व में स्वाट टीम गाजीपुर।
निरीक्षक विनोद दूबे के नेतृत्व में स्वाट टीम भदोही ।
उ0नि0अरुण सिंह के नेतृत्व में सर्विलांस टीम।

अपर पुलिस महानिदेशक वाराणसी जोन बृजभूषण, पुलिस आयुक्त कमिश्नरेट वाराणसी ए.सतीश गणेश व पुलिस महानिरीक्षक वाराणसी परिक्षेत्र के निकट मार्गदर्शन में जनपद-गाजीपुर, भदोही व कमिश्नरेट वाराणसी की स्वाट टीमों व सर्विलांस टीमों एवं पी0एन0बी0 के सर्किल हेड श्री राजेश श्रीवास्तव तथा अन्य अधिकारियों द्वारा घटना के अनावरण में महत्वपूर्ण सहयोग किया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *