पीएमओ ने लिया संज्ञान एशिया की सबसे बड़ी कोल मंडी को अन्यत्र हटाया जाय

पीएमओ ने लिया संज्ञान एशिया की सबसे बड़ी कोल मंडी को अन्यत्र हटाया जाय

रिपोर्टर रन्धा सिंह / चन्दौली: पंडित दीनदयाल उपाध्याय नगर- एशिया की सबसे बड़ी चंदासी कोल मंडी में लगातार साइलेंट किलर के रूप में उड़ रहे कोल डस्ट से इंसानी जिंदगी को खतरे की शिकायत को पीएमओ ने संज्ञान लेते हुए उत्तर प्रदेश प्रदुषण नियंत्रण बोर्ड से रिपोर्ट मांगी थी। जिसके बाद महकमा हरकत में आया और जांच के बाद जो रिपोर्ट आये वो काफी चौकाने वाले थे। जांच टीम को चंदासी कोल मंडी में धूल के कण की जांच के बाद टोटल डस्ट 75 माइक्रॉन प्रति किलोमीटर जो 2182.45 किलोमीटर प्रति किलोमीटर रिकार्ड किया गया।रिपोर्ट आने की बाद बोर्ड ने आदेश दिए कि मंडी को अन्यत्र हटाया जाए या सीसी रोड,डस्ट वाल निर्माण करा कर नियमित जल छिड़काव कराया जाय।

आपको बतादे कि चंदासी कोयला मंडी एशिया की सबसे बड़ी कोल मंडी है जहाँ 10 हजार ट्रकों का आवागमन निरंतर बना रहता है। मंडी में कोयला लोडिंग अनलोडिंग व क्षेतिग्रस्त सड़को के कारण धूल का अंबार रहता है। कोल डस्ट मिश्रित धूल के अम्बार में सड़क पर जाम के कारण देर तक रुकने वाले राहगीरों के स्वास्थ्य पर भी प्रतिकूल प्रभाव पड़ता है। इतना ही नही मंडी में कार्य करने वाले करीब 20 हजार मजदूर भी प्रतिदिन कोल डस्ट का सामना करते हैं। 20 हजार मजदूरों का पेट भरने वाली यह मंडी कोल डस्ट के वजह से मौत की मंडी बन चुकी है। इसकी शिकायत को पीएमओ ने संज्ञान लेकर पॉल्यूशन कंट्रोल बोर्ड को जांच सौंपी जिसके बाद बोर्ड ने मंडी को अन्यत्र विस्थापित करने के आदेश दिए हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *