पद्मश्री पुरस्कार डॉ संजय राजाराम का कोविड बीमारी के चलते मौत

पद्मश्री पुरस्कार डॉ संजय राजाराम का कोविड बीमारी के चलते मौत

  • क्षेत्र दौड़ी शोक की लहर

महेश पाण्डेय ब्यूरो चीफ

वाराणसी: बड़ागांव स्थानीय थाना क्षेत्र के रायपुर (अनेई) गांव निवासी विश्व विख्यात कृषि वैज्ञानिक डॉ संजय राजाराम 80वर्ष जिन्हें देश विदेश में पद्मश्री सहित विश्व स्तरीय पुरस्कारों से सम्मानित किया गया था उन्हें कोविड महामारी ने चपेट में ले लिया और कल अमेरिका में उपचार के दौरान उनका देहांत हो गया। इस बात की खबर मिलते ही आज क्षेत्र में शोक की लहर दौड़ गई।


जानकारी के अनुसार उपरोक्त गांव निवासी महान कृषि वैज्ञानिक जहां अपने भारत देश में सन् 2001 के तत्कालीन राष्ट्रपति केआर नारायणन द्वारा पद्मश्री अवार्ड से नवाजा गया था वहीं वैश्विक समुदाय ने सन् 2014 में कृषि क्षेत्र में नोबेल पुरस्कार कहे जाने वाले विश्व खाद्य पुरस्कार से भी नवाजा गया वही चीन ने 2001 में फ्रेंड शीप अवार्ड के साथ विभिन्न देशों ने सौ से भी ज्यादा राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय पुरस्कारों से सम्मानित किया है।

आप विदेश के अमेरिका में रहते हुए अपने देश में गेहूं प्रजनन कार्यक्रम का नेतृत्व किया और श्री राम गेहूं सहित अधिक उत्पादन और रोग प्रतिरोधक क्षमता विकसित करने वाली लगभग पांच सौ दस गेहूं की प्रजातियों का अलग अलग देशों के लिये उत्पादन किया है।

आप गोरखपुर विश्वविद्यालय से बीएससी कृषि में गोल्ड मेडल पाने के साथ ही भारतीय कृषि अनुसंधान नई दिल्ली से स्नातकोत्तर की उपाधि प्राप्त करने के बाद आस्ट्रेलिया के सिडनी विश्व विद्यालय से प्लांट बृडिंग से पीएचडी किया है।यह अपने पीछे अमेरिका में दो पुत्र और दो पुत्री के साथ अपने पैतृक गांव रायपुर में अपने भतीजे कैलाश पटेल का भरा पुरा परिवार छोड़ गये हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *