Fri. Feb 23rd, 2024

New Year 2024 : भारत के लिए कैसा रहेगा नया साल, आचार्य डॉ. विक्रमादित्य ने दिए सुझाव 

Horoscope

New Year 2024 : नए साल 2024 की शुरुआत हो रही है. 1 जनवरी 2024 दिन सोमवार को साल 2024 का पहला दिन होगा. हर कोई चाहता है कि 21वीं शताब्दी के तीसरे दशक का यह चौथा साल उनके लिए अच्छा रहे. 1 जनवरी को हम सभी नये साल में प्रवेश कर जाएंगे. 

आचार्य डॉ. विक्रमादित्य के अनुसार, नए साल का पहला दिन ज्योतिषीय दृष्टिकोण से भी बहुत शुभ दिन है. इस वर्ष की संख्या (2+2+0+2=8) 8 बन रही है. इस अंक के स्‍वामी न्‍याय के देवता शनि देव हैं. इस कारण यह भौतिक और आध्यात्मिक केंद्र का वर्ष होगा. अंक (8) नेतृत्व, समृद्धि और सफलता का अंक है. कई आध्यात्मिक जगहों पर अंक (8) अनंत के प्रतीक का भी प्रतिनिधित्व करता है. यह साल उन लोगों के लिए काफी सफल रहेगा. जिनका मूलांक या भाग्यांक (8) है. भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र  मोदी का जन्म 17 सितंबर को हुआ था. इस कारण उनका मूलांक (1+7=8) 8  है. 

साल 2024 के राजा मंगल होंगे और उनके मंत्री शनि होंगे. शनि की बुद्धि से राजा मंगल काम करेंगे. इसकी वजह से देश और दुनिया में कई ऐसी घटनाएं होंगी, जिससे लोग हैरान परेशान रह जाएंगे. दुनिया भर में कई जगहों पर युद्ध विस्फोट जैसे हालातों से आम जनता प्रभावित होगी. देश में राजनीतिक उग्रता सांप्रदायिक उपद्रव और तोड़ फोड़ की वारदातें अधिक होंगी. भारत देश को राजनीतिक पटल पर विशेष उतार चढ़ाव का सामना करना पड़ सकता है. इस दौरान विभिन्न राजनेताओं और राजनीतिक पार्टियों के बीच टकराव देखने को मिल सकता है. इसके साथ ही इस दौरान कई नए गठबंधन देखने को मिलेंगे.

आचार्य विक्रमादित्य के अनुसार नए साल के पहले दिन करें ये उपाय 

मिट्टी के दो छोटे पात्र लें. एक में गाय का कच्चा दूध और दूसरे में साबुत अनाज रखें. दोनों में एक-एक सिक्का और एक-एक सफेद फूल डालकर उसके ढक्कन से ढक दें. शाम गोधूलि मुहूर्त में इसको निर्जन स्थान पर रख दें. वापस लौटते समय मुड़कर नहीं देखें. इस उपाय को करने से मनोकामना पूरी होगी. 

मां लक्ष्मी को प्रसन्न करने के लिए करें ये काम

नया साल सभी के जीवन में खुशियां लेकर आता है. ऐसे में लोगों को इसका बेसब्री से इंतजार रहता है. नए साल के शुभ अवसर पर कुछ लोग खरीदारी करते हैं तो कुछ घूमने की योजना बनाते हैं. आज हम आपको कुछ ऐसे खास उपाय बता रहे हैं जिनको नए साल की शुरुआत में करने से मां लक्ष्मी का आशीर्वाद मिलेगा. इसके साथ ही नये साल में आपके जीवन में सुख-सुविधाओं और धन-संपदा का आगमन होगा.

भगवान गणेश की करें आराधना

हिंदू धर्म में भगवान गणेश की पूजा का विशेष महत्व है, गणपति को प्रथम पूज्य माना जाता है. किसी भी नये कार्य या पूजा की शुरुआत से पहले भगवान गणेश की पूजा की जाती है. ऐसे में नये साल के पहले दिन भगवान गणेश की पूजा करें और उन्हें लाल सिंदूर का टीका लगाकर मोदक और दूर्वा अर्पित करें. नए साल पर ऐसा करने से सभी विघ्न और बाधाओं का नाश होगा और आपका भाग्य उदय होगा.

श्रीयंत्र की करें पूजा

इस नये साल में मां लक्ष्मी की कृपा पाना चाहते हैं तो इस दिन श्री यंत्र की पूजा जरूर करें. इसके बाद इस यंत्र को अपने पूजा घर या तिजोरी में रख दें. माना जाता है कि ऐसा करने सें मां लक्ष्मी प्रसन्न होगी और घर में धन-संपदा का आगमन होता है.

दक्षिणाव्रती शंख

दक्षिणाव्रती शंख को बहुत ही शुभ माना जाता है, इसको मां लक्ष्मी का प्रतीक भी माना जाता है. ऐसे में इस नये साल में दक्षिणावर्ती शंख का पूजन अगर आप करते हैं तो मां लक्ष्मी प्रसन्न होगी हैं और मां धन-धान्य का आशीर्वाद प्रदान करती रहेंगी.

मुख्य द्वार पर लगाएं ये चीजें  

साल 2024 के पहले दिन स्वास्तिक चिह्न, घोड़े की नाल, तांबे से बनी सूर्य की प्रतिमा, फेंगशुई के लाल रिबन में बंधे तीन सिक्के, शुभ-लाभ, बंदनवार, लक्ष्मी जी के पद चिह्न को घर के मेनगेट पर लगाने से सालभर धन-संपदा में वृद्धि होती है.

ये पौधे लगाएं  

तुलसी, मनी प्लांट, अपराजिता, शमी, आंवला, बेलपत्र, आम, अशोक, पीपल फेंगुशई के बांस का पौधा आदि पौधे जीवन में समृद्धि लाते हैं. इन्हें साल के पहले दिन लगाना शुभ रहेगा.

 कमल का फूल अर्पित करें

इस नये साल पर मां लक्ष्मी को प्रसन्न करने के लिए पूजन में माता रानी को पांच कमल के फूल और सुंगधित इत्र अर्पित करें. ऐसा करने से मां लक्ष्मी का आशीर्वाद जरूर मिलता है.

घर लाएं ये शुभ चीजें

नव वर्ष के पहले दिन आपको गोमती चक्र, दक्षिणावर्ती शंख, लाफिंग बुद्धा, मोरपंख, लक्ष्मी-कुबेर यंत्र, चांदी का हाथी आदि की खरीदारी करनी चाहिए. ऐसा करने से ग्रह दोष दूर होगा और पूरे परिवार को स्वास्थ लाभ मिलेगा. ये सभी चीजें घर में बरकत लाती हैं.

पहले दिन करें दान

साल 2024 के पहले दिन आदित्य मंडल, तिल, गुड़, गर्म कपड़े, अन्न, धन, सुहागनों को श्रृंगार का सामान दान करने से सौभाग्य में बढ़ोत्तरी होगी. पूरे साल अन्न के भंडार भरे रहेंगे. इसके साथ ही जरुरतमंदों की मदद करें, इससे वैवाहिक जीवन में खुशियों का आगमन होता है और संतान संबंधी परेशानियां खत्म होती हैं.

पर्स में रखें ये चीजें

नए साल में छोटी हरी इलायची, चावल, चांदी का सिक्का, पीपल का पत्ता, पर्स में रखने से धन का अभाव नहीं रहेगा. वॉलेट हमेशा नोटों से भरा रहेगा.

नये साल के पहले दिन भूलकर ना करें ये कार्य

आचार्य डॉ. विक्रमादित्य के अनुसार कुछ काम ऐसे भी होते हैं जिनको नए साल पर करने से पूरे साल परेशानियां झेलनी पड़ सकती हैं. आइए जानते है कि नए साल पर कौन से काम नहीं करने चाहिए.

घर पर न करें अंधेरा

नया साल किसी पर्व से कम नहीं होता है. इस दौरान घर व मंदिरों में पूरे विधि-विधान से पूजा की जाती है. इस कारण सभी को इस दिन घर में उजाला करना चाहिए. भूलकर भी आप घर में अंधेरा न होने दें. ऐसा करना बहुत ही अशुभ होता है.

न करें लड़ाई

नए साल के पहले दिन घर और परिवार में शांति बनाए रखें. किसी से भी वाद-विवाद में न पडे़. माना जाता है कि साल के पहले दिन लड़ाई-झगड़े करने से पूरे साल घर में नेगेटिव एनर्जी बनी रहती है.

तामसिक भोजन न करें

नए साल पर तामसिक भोजन का सेवन नहीं करना चाहिए. दरअसल, साल का पहला दिन पर्व के रूप में मनाया जाता है. घरों में मां लक्ष्मी की विधिनुसार पूजा की जाती है. इस कारण इस दिन मांसाहारी भोजन से परहेज करना चाहिए.

कर्ज न लें

साल के पहले दिन किसी से कर्ज न लें. माना जाता है कि साल की शुरुआत में कर्जा लेने से पूरे वर्ष आर्थिक परेशानियां झेलनी पड़ सकती हैं. इस कारण कर्ज लेने से बचें. इस दौरान पर्स को भी खाली न रखें.

धारदार वाली चीजें न खरीदें

माना जाता है कि नए साल के शुभ मौके पर चाकू, धारदार वाली चीजों की खरीदारी नहीं करनी चाहिए. ऐसा करने से परिवार को आर्थिक संकट का सामना करना पड़ सकता है.

पुराने  वस्त्र न पहनें

साल के पहले दिन भूलकर भी मैले वस्त्र न पहनें. माना जाता है इस दिन पुराने कपड़े पहनने से नकारात्मक ऊर्जा का संचार होता है.

Disclaimer : यहां दी गई सभी जानकारी सामान्य मान्यताओं और जानकारियों पर आधारित है.  हमइन मान्यताओं और जानकारियों की पुष्टि नहीं करते है. किसी भी जानकारी को अमल में लाने से पहले संबंधित विशेषज्ञ से सलाह अवश्य ले लें.

Related Post

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *