Fri. Feb 23rd, 2024

महाराष्ट्र में तैयार हुआ महायुति का मेगाप्लान, जल्द होगा राज्य स्तरीय सम्मेलन

Mahayuti's megaplan prepared in Maharashtra

Lok Sabha Elections 2024: महाराष्ट्र में भाजपा, एनसीपी (अजित पवार गुट) और शिवसेना (शिंदे गुट) एक साथ चुनाव लड़ेगी. 14 जनवरी को महायुति का राज्य स्तरीय सम्मेलन होगा. इसके बाद सीटों के बंटवारे पर बात की जाएगी. तीनों ही दलों के नेताओं ने संयुक्त रूप से यह जानकारी दी है.

महाराष्ट्र में लोकसभा चुनाव के लिए महायुति ने मेगा प्लान तैयार कर लिया है. तय हुआ है कि लोकसभा चुनाव में भाजपा, एनसीपी (अजित पवार गुट) और शिवसेना (शिंदे गुट) गठबंधन के साथ ही चुनाव में उतरेंगे. बुधवार को मुंबई के गिरगांव इलाके में महायुति ने संयुक्त प्रेस कांफ्रेंस कर इसका ऐलान किया.

बीजेपी अध्यक्ष चंद्रशेखर बावनकुले, एनसीपी (अजित पवार गुट) के अध्यक्ष सुनील तटकरे और शिवसेना शिंदे गुट के नेता और मंत्री दादा भूसे ने संयुक्त रूप से बताया कि 14 जनवरी को महायुति का राज्य स्तर पर सम्मेलन होगा. इसमें सभी प्रभारी नेता एक साथ मिलकर चुनाव की रणनीति तैयार करेंगे. फरवरी में हम विभाग के और सीटों का बंटवारा होने पर उच्चस्तरीय बैठक और सम्मेलन करेंगे. जहां पर जो मबूत होगा वहां पूरी ताकत के साथ अन्य पार्टियां साथ देंगी.

45 सीट जीतेगा महायुति, हमारे साथ जुड़ेंगे कई बड़े नेता

महायुति के नेताओं ने दावा किया कि संगठन 45 से ज्यादा सीटें जीतगा. 51 प्रतिशत से ज्यादा वोट शेयर हमारा होगा. इसके अलावा अन्य बड़े नेता भी जल्द ही गठबंधन से जुड़ेंगे. भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष चंद्रशेखर बावनकुले ने कहा हम विधानसभा में भी 225 से ज्यादा सीटें जीतेंगे. यह लक्ष्य हमने रखा है. उन्होंने कहा कि नागपुर की सभा में आपने देखा हेागा कि एमवीए के नेता भाषण दे रहे थे, लेकिन कोई सुनने वाला ही नहीं था. उन्होंने कहा कि जब संजय राउत भाजपा के साथ थे तो कहते थे कि राम मंदिर केवल मोदी बना सकते हैं, और पीओके को वापस ला सकते हैं.

उद्धव ठाकरे अपनी हालत के लिए खुद जिम्मेदार

पत्रकारों से बातचीत में शिवसेना शिंदे गुट के नेता मंत्री दादा भूसे ने कहा कि तीनों दल एक साथ मिलकर फैसला लेंगे. उद्धव ठाकरे पर उन्होंने कहा कि वह अपनी इस हालत के लिए खुद जिम्मेदार हैं, पहले सीट शेयरिंग की बात बैठकर मातोश्री में होती थी, लेकिन अब उन्हें फैसला लेने के लिए दिल्ली के चक्कर लगाने पड़ रहे हैं. कल्याण का जो होजी मलंग का मुद्दा है ये 40 साल पहले से चला आ रहा है. नेताओं ने दावा किया है कि वह 45 सीअें जीतेंगे. हम सभी इसकी तैयारी कर रहे हैं. इस वक्त कार्यकर्ता और नेताओं की कतार महायुती से जुड़ने के लिए लगी है. हमने जिला स्तर से बूथ स्तर तक पूरी तैयारी कर ली है.

देश विकास के पथ पर अग्रसर

देश में पीएम नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में कई बड़े निर्णय लिए हैं और विकास की पथ पर अग्रसर है और इसीलिए उनके नेतृत्व में महायुति आने वाले समय में एक साथ चुनाव लड़ेंगे. राज्य और केंद्र सरकार ने कई योजनाएं आम जनता के लिए है. इन सभी कार्यों को लोगों तक पहुंचाने का काम हम आने वाले समय में करेंगे. एनसीपी प्रदेश अध्यक्ष सुनील तटकरे ने कहा कि महायुति में हम सब आने वाले चुनाव एक साथ लड़ने का निर्णय लिया है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी के नेतृत्व में हम यह चुनाव लड़ेंगे. 14 तारीख़ से महायुति की जनसभाएं होंगी, सीएम डिप्टी सीएम और अन्य प्रमुख नेता इन सभाओं में शामिल होंगे. फरवरी तक ये महासभाएं चलेंगी.

Related Post

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *