अंतरराष्ट्रीय ध्रुपद मेला का शुभारंभ महंत प्रो विश्वम्भरनाथ मिश्र जी ने किया

अंतरराष्ट्रीय ध्रुपद मेला का शुभारंभ महंत प्रो विश्वम्भरनाथ मिश्र जी ने किया

  • महेश पाण्डेय ब्यूरो चीफ

वाराणसी: आज 8 मार्च को अंतरराष्ट्रीय ध्रुपद मेला का शुभारंभ महंत प्रो0 विश्वम्भरनाथ मिश्र जी संस्थापक सदस्य एवं अध्यक्ष उत्तर प्रदेश नाटक अकादमी पद्मश्री डॉ राजेश्वर आचार्य तथा ख्यात कलाकार डॉ ऋत्विक सान्याल जी के द्वारा संयुक्त रूप से दीप प्रज्ज्वलन के माध्यम से हुआ। इससे पूर्व पं स्वर्णप्रताप चतुर्वेदी जी के आचार्यत्व में वैदिक अध्येताओ पं0 पंकज जी, हेमंत जी, जयशंकर जी, रमेश जी, कीर्तिनाथ जी, ने वैदिक मंगलाचरण की प्रस्तुति हुई। इस अवसर पर ध्रुपद मेला के संयोजक प्रो विश्वम्भरनाथ मिश्र जी ने वर्तमान कोविड काल मे आयोजन की रूपरेखा को सीमित रूप में करने के साथ आयोजन की वैश्विक महत्ता की चर्चा करते हुए इस आयोजन को कोविड के उपरांत कलाकारों के लिए एक नई आशा का प्रतीक बताया। डॉ ऋत्विक सान्याल ने ध्रुपद मेले के आयोजन की यात्रा को ध्रुपद के प्रसार संवर्धन का प्रतीक बताया। अंत मे संस्थापक सदस्य पद्मश्री डॉ राजेश्वर आचार्य ने ध्रुपद मेला के शताब्दी वर्ष की सफलता की कामना व्यक्त करते हुए अपने वरिष्ठजनो सुरबहार वादक गुरु प्रो0 लालमणि मिश्रा,पखावज गुरु, महंत पं0 अमरनाथ मिश्र, महंत प्रो0 वीरभद्र मिश्र तथा स्वर्गीय काशी नरेश डॉ विभूति नारायण सिंह जी की यशकाया को नमन किया। अतिथियों को माल्यार्पण किया ध्रुपद मेला के वरिष्ठ सहयोगी पं0 गोपाल पांडेय ने कार्यक्रम का कुशल संचालन संयुक्त रूप से डॉ प्रीतेश आचार्य एवं श्री सौरभ चक्रबर्ती ने किया।


महंत प्रोफेसर विश्वम्भरनाथ मिश्र के विशेष उद्बोधन
विदेशों से भी दर्शक कलाकार आते हैं जो इस बार नही आ पाए हैं। लेकिन कोई बात नही हम अगले वर्ष फिर उसी उत्साह के साथ आयोजन करेंगे। एक बात और बता दूँ कि लोग आकर कलाकरों के प्रस्तुति को देखते जरूर हैं लेकिन इसके पीछे कलाकारों की कठिन साधना होती है। यहां हर चीज अनुष्ठान के रूप में देखा जाता है। फिर चाहे वह संगीत हो या कोई अन्य आयोजन। जो भी कलाकार यहाँ अपनी प्रस्तुति देते हैं वह पूरे वर्ष कठिन मेहनत करते हैं उन्होंने एक वर्ष कैसे बिताया होगा यह वही जानते हैं। इसलिए सभी से अनुरोध है ऐसे कलाकारों की स्वैच्छा से मदद जरूर करें। यह बाबा विश्वनाथ और संकटमोचन महराज और माता भगवती की ही कृपा है कि यह आयोजन पिछली वर्ष सफल रहा और इस वर्ष भी रहेगा। सभी से अनुरोध है कि इस अनुष्ठान में जरूर सम्मिलित हो और सभी कलाकारों का उत्साहवर्धन करें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *