विश्व में विभिन्न भाषाओं का ज्ञान बहुत उपयोगी है: ओम बिरला

विश्व में विभिन्न भाषाओं का ज्ञान बहुत उपयोगी है: ओम बिरला

नयी दिल्ली: लोक सभा अध्यक्ष ओम बिरला ने मंगलवार को कहा कि विभिन्न भाषाओं का ज्ञान जीवन में सफलता के लिए बहुत आवश्यक और ये हमें समृद्ध करने के साथ-साथ सामाजिक रूप से जोड़ने का भी काम करती हैं।

लोक सभा अध्यक्ष बिरला ने संसद भवन में लोक सभा सचिवालय के अधिकारियों और कर्मचारियों के लिए फ्रेंच भाषा के प्रारम्भिक स्तर के प्रशिक्षण कार्यक्रम का उद्घाटन करने के बाद कहा, “आपस में जुड़े हुए विश्व में विभिन्न भाषाओं का ज्ञान बहुत उपयोगी है और विभिन्न क्षेत्रों में सफलता के लिए आवश्यक भी है।”

उन्होंने कहा कि भाषाएं लोगों को एक दूसरे के साथ जोड़ती है और उनकी दक्षता एवं कुशलता बढ़ाती हैं, नयी भाषाओं को सीखकर हमें अपने कौशल और दक्षता में सुधार के लिए निरंतर प्रयासरत रहना चाहिए।

लोक सभा अध्यक्ष ने कहा कि भारत विविधताओं का देश है और संसद हमारी विविधताओं का केंद्र बिंदु है। उन्होंने कहा कि ‘लोक सभा लोकतंत्र का मंदिर है और 130 करोड़ भारतीयों की भावनाओं की अभिव्यक्ति का केंद्र है। लोक सभा में सदस्य अपनी बात 22 भारतीय भाषाओं में रख सकते हैं।

उन्होंने इस बात पर प्रसन्नता व्यक्त की कि लोक सभा सचिवालय ने अपने अधिकारियों और कर्मचारियों के लिए इस तरह के प्रशिक्षण की व्यवस्था की है। उन्होंने इस बात पर ज़ोर दिया कि लोक सभा सचिवालय देश के अन्य संस्थानों का मार्गदर्शन करे और उसके लिए आवश्यक है कि हमारी दक्षता व कुशलता बेहतर हो । हमने इसी दिशा में कार्य करना प्रारंभ किया है।

लोक सभा अध्यक्ष ओम बिरला ने संसदीय लोकतन्त्र शोध एवं प्रशिक्षण संस्थान (प्राइड) की ओर से की गई इस पहल की सराहना करते हुए कहा कि प्राइड ज्ञान और शोध का प्रमुख केंद्र है। उन्होंने इस बात का उल्लेख भी किया कि भविष्य में जर्मन, रूसी, स्पेनिश और विश्व की अन्य महत्वपूर्ण भाषाओं के प्रशिक्षण कार्यक्रम भी आयोजित किये जायेंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *