पार्टी कार्यालय समता भवन पर संत शिरोमणि कवि रविदास जी की जयंती समारोह

पार्टी कार्यालय समता भवन पर संत शिरोमणि कवि रविदास जी की जयंती समारोह

रिपोर्टर:-प्रदीप दुबे

गाजीपुर: समाजवादी पार्टी के तत्वाधान में जिलाध्यक्ष रामधारी यादव की अध्यक्षता में शनिवार को पार्टी कार्यालय समता भवन पर संत शिरोमणि कवि रविदास जी की जयंती समारोह आयोजित हुई की गई । समारोह आरंभ होने के पूर्व पार्टी के सभी नेताओं एवं कार्यकर्ताओं ने उनके चित्र पर पुष्प अर्पित कर श्रद्धांजलि अर्पित करते हुए उनके बताये रास्ते पर चलकर सांप्रदायिक सद्भाव को बनाए रखने का संकल्प लिया।

इस समारोह का शुभारंभ होने के पूर्व लोकगीत कलाकार सुदामा राम ने गीत के माध्यम से संत रविदास जी को श्रद्धांजलि अर्पित किया। जंगीपुर विधायक डॉ वीरेंद्र यादव ने संत रविदास को आधुनिक चेतना का अग्रदूत बताते हुए कहा कि आज के परिवेश में जब जातिवाद और धार्मिक उन्माद अपने चरम पर है ,ऐसे दौर में संत रविदास की प्रासंगिकता बढ़ जाती है ।

आज की तारीख में सभी को संत रविदास के आदर्शों को अपने जीवन में आत्मसात कर देश और समाज के विकास में प्रभावी भूमिका निर्वहन करने की आवश्यकता है। संत रविदास जी जाति पंथ के भेद से दूर समरस समाज की स्थापना के लिए उन्होंने अपने व्यक्तित्व से संपूर्ण समाज का विवेक जागृत किया ।उनके विचार और दर्शन हम सबका सदा पथ प्रदर्शन करते रहेंगे।

जिलाध्यक्ष रामधारी यादव ने कहा कि संत रविदास जी ने सर्वप्रथम हिंदू और मुस्लिम एकता स्थापित करने का प्रयास किया ।उनका कहना था कि राम और रहीम को एक समझा जाए तथा वेद और कुरान को लोग बराबर सम्मान दें ।मंदिर मस्जिद को परमपिता परमेश्वर का धर्मस्थल बता कर हिंदू और मुसलमानों को आपस में न लड़ने की सलाह देते थे ।

उनका कहना था कि “मंदिर मस्जिद एक है, इन में अंतर नाही ,रैदास राम रहमान का, झगड़ा कोउ नाही। रैदास हमारा राम जोई, सोई है रहमान, काबा काशी जानि यहि, दोउ एक समान ।” जिलाध्यक्ष रामधारी यादव ने कहा कि संत रविदास जी वर्ण व्यवस्था एवं जाति व्यवस्था के घोर विरोधी थे ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *