(adsbygoogle = window.adsbygoogle || []).push({});
Tue. Apr 16th, 2024

हरियाणा में बहाल हुई इंटरनेट सेवा, सस्पेंड हुआ “किसान मजदूर मोर्चा” का फेसबुक पेज

Farmers Protest

 Farmers Protest: राज्य के कई इलाकों में 10 फरवरी को किसान आंदोलन के चलते हरियाणा के कई जिलों में इंटरनेट सेवा को बंद कर दिया गया था और अब कई इलाकों में इसे बहाल कर दिया गया है। इंटरनेट सेवा के शुरू होने से लोगों को बड़ी राहत मिली है। बता दें हरियाणा के सात जिलों अंबाला, कुरुक्षेत्र, कैथल, जींद, हिसार, फतेहाबाद, सिरसा में इंटरनेट सेवाएं बंद की गई थी। 

इसके अलावा किसान आंदोलन के बीच सरकार की ओर से एक और कार्रवाई की गई है। मोर्चा का नेतृत्व कर रहे किसान मजदूर मोर्चा का फेसबुक पेज बंद कर दिया गया है। इसके साथ ही सामने वाले के इंस्टाग्राम अकाउंट पर 7 पोस्ट पर भी प्रतिबंध लगा दिया गया है। 

प्रदर्शनकारियों से की जाएगी नुकसान की भरपाई 

हरियाणा की सभी सीमावर्ती जिलों की सीमाएं सील कर दी गई थीं और 15 जिलों में धारा 144 लगाई गई थी। इसके पुलिस उपद्रवियों व शरारती तत्वों पर ड्रोन, सीसीटीवी कैमरे से नजर रख रही थी। संपत्ति की नुकसान की भरपाई प्रदर्शनकारियों से करवाई जाएगी।

गौरतलब है कि किसानों का एमएसपी पर फसल खरीद की कानूनी गारंटी, स्वामीनाथन आयोग की सिफारिशें लागू करने समेत अन्य मांगों को लेकर दिल्ली कूच का ऐलान किया गया है। इस मोर्चे का नेतृत्व किसान मजदूर मोर्चा और संयुक्त किसान मोर्चा (गैर राजनीतिक) कर रहे हैं। फिलहाल किसान शंभू और खनौरी बॉर्डर पर डटे हुए हैं।

वहीं दिल्ली पुलिस ने शनिवार को सिंघू और टीकरी बॉर्डर खोल दिए है। पुलिस ने दोनों बॉर्डर पर आवाजाही के लिए एक हिस्सा खोला है। किसानों के ‘दिल्ली चलो’ मार्च के मद्देनजर दिल्ली-हरियाणा सीमा पर सिंघू और टीकरी सीमा मार्गों को करीब दो सप्ताह तक बंद रखने के बाद प्रशासन ने शनिवार को उन्हें आंशिक रूप से खोलने की प्रक्रिया शुरू कर दी। अधिकारियों ने यह जानकारी दी।

Related Post

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *