अन्तर्राष्ट्रीय महिला दिवस

अन्तर्राष्ट्रीय महिला दिवस

समारोह कस्तूरबा गाँधी आवासीय बालिक विद्यालय सठियांव

रिपोर्टर राकेश वर्मा


आजमगढ़: अन्तर्राष्ट्रीय महिला दिवस समारोह कस्तूरबा गाँधी आवासीय बालिक विद्यालय सठियांव, आज़मगढ में हाशिये के समाज की बच्चियों ने महिला दिवस समारोह में सीखा जीवन में आगे बढ़ने और अपनी पहचान बनाने का गुर।आयोजन की मुख्य अतिथि थीं साज फाउंडेशन की डायरेक्टर डॉक्टर सन्तोष सिंह। खण्ड शिक्षाधिकारी श्री क्षमाशंकर पाण्डेय और सन्तोष सिंह जी ने माँ सरस्वती की प्रतिमा पर पुष्प अर्पित कर दीप जला कार्यक्रम का शुभारंभ किया तथा छात्राओं द्वारा निर्मित बाल अखबार के महिला दिवस विशेषांक का विमोचन किया। खण्ड शिक्षाधिकारी महोदय ने छात्राओं को कहा कि इस दिन की सार्थकता इसी में है कि बेटियाँ पढ़ें और समाज में आत्मनिर्भर हो समानता का अधिकार प्राप्त करें।

डॉक्टर सन्तोष सिंह जी ने बच्चियों को सम्बोधित करते हुए कहा कि हम सब में एक विशिष्ट गुण जन्मजात होता है,उसे पहचाने और मुश्किल समय में उसका हाथ थाम आत्मनिर्भर बनें।मैं इस विद्यालय के सकारात्मक माहौल से इतनी अनुप्रेरित हूँ कि बच्चियों को जीवन कौशल के गुण सिखाने आती रहूँगी।छात्राओं को उस वक्त अत्यंत खुशी हुई जब खण्ड शिक्षाधिकारी ने मेधावी बच्चियों को अपना माला पहना सम्मानित किया तह कहते हुए कि आज इनका दिन है और सम्मान भी इनका ही होना चाहिए।


इस अवसर पर वार्डेन अर्चना पाण्डेय ने आगत अतिथियों को आभार व्यक्त किया तथा समारोह का संचालन सोनी पाण्डेय ने किया। कंचन यादव,अनवरी बेगम, प्रमिला देवी ,कृष्णा देवी आदि शिक्षिकाएं तथा लेखाकार मनोज गिरी तथा समस्त शिक्षणेत्तर कर्मचारी तथा अभिभावक उपस्थित रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *