Fri. Feb 23rd, 2024

फिलहाल लागू नहीं होगा HIT and Run कानून, जानें क्या है पूरा मामला

Hit and Run Law in India

Hit and Run Law in India: नए साल की शुरुआत होते ही देश में चक्काजाम देखने को मिला. केंद्र सरकार के नए हिट एंड रन कानून (Hit and Run Law) के खिलाफ ट्रक, डंपर और बस ड्राइवर सड़कों पर उतर आए. देश के अलग-अलग हिस्से में इस नए कानून को लेकर भारी विरोध देखने को मिला. अब भारत सरकार के केंद्रीय गृह मंत्रालय की ओर से लिखित चिट्ठी जारी करते हुए कहा गया है की हिट एंड रन मामलों के लिए लाए गए कानून को अभी लागू नहीं किया गया है. भारत सरकार का संबंधित विभाग इस कानून को लागू करने से पहले अखिल भारतीय मोटर ट्रांसपोर्ट कांग्रेस के प्रतिनिधियों से बातचीत करेगा. बातचीत में बनी सहमति के बाद ही इस कानून को लागू किया जाएगा.  

कानून में किए गए बदलाव 

दरअसल, हाल ही में केंद्र सरकार ने देश के कई कानून में बदलाव किए हैं, जिससे अब पूरे देश में भारतीय दंड संहिता की जगह भारतीय न्याय संहिता लागू होगी. इसमें बहुत सारे मामलों में सजा और जुर्माने के प्रावधान बदले गए हैं, जिसमें हिट एंड रन के केस भी शामिल हैं. भारत न्याय संहिता में ‘हिट एंड रन’ केस के लिए कड़े प्रावधान करते हुए 10 साल की कैद और 7 लाख रुपये जुर्माने की सजा का प्रावधान किया गया था. 

कानून के विरोध में हड़ताल 

भारतीय न्याय संहिता के तहत हिट एंड रन के मामले में 10 साल की सजा का प्रावधान किए जाने के बाद ट्रक और बस ड्राइवरों ने राष्ट्रीय स्तर पर 1 जनवरी से लेकर 3 जनवरी तक इस कानून के विरोध में हड़ताल की घोषणा की थी. हड़ताल को देखते हुए सरकार ने यूनियन के नेताओं से बातचीत के बाद इस कानून को लागू करने पर रोक लगा दी थी. 

पहले क्या था कानून 

बता दें कि, पहले भारत में इंडियन पैनल कोड के तहत हिट एंड रन केस में दो साल तक की सजा का प्रावधान था. भारत में सड़क हादसे और लापरवाही से वाहन दुर्घटनाएं सबसे ज्यादा होती हैं. ऐसी दुर्घटनाओं में सबसे ज्यादा लोग भी यहीं मरते हैं. हाल ही में नया कानून हिट एंड रन मामले में कड़ा कानून बना दिया गया जिसके बाद इसका व्यापक विरोध देखने को मिला. 

Related Post

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *