ADS (6)
ADS (5)
ADS (4)
ADS (3)
ADS (2)
previous arrow
next arrow
 
ADS (6)
ADS (5)
ADS (4)
ADS (3)
ADS (2)
previous arrow
next arrow
Shadow

सीबीएसई बोर्ड के 12वीं परीक्षा में पहली बार रचा इतिहास

CBSE board 12th

नयी दिल्ली/ (न्यूज एजेंसी): सीबीएसई बोर्ड ने शुक्रवार को इस साल के 12वीं कक्षा के नतीजे घोषित किये, जिसमें पहली बार सर्वाधिक 99 प्रतिशत से भी ज्यादा छात्र उत्तीर्ण हुए। इस बार भी लड़कियों ने 0.54 प्रतिशत के मामूली अंतर से लड़कों को पछाड़ दिया।

पिछले साल के 88.78 प्रतिशत के मुकाबले इस बार उत्तीर्ण होने के प्रतिशत में 10 प्रतिशत से अधिक की वृद्धि हुई। पिछले साल लड़कियों और लड़कों के उत्तीर्ण प्रतिशत में लगभग 6 प्रतिशत का अंतर था।

कोविड-19 की दूसरी लहर को देखते हुए परीक्षा रद्द होने के बाद बोर्ड ने वैकल्पिक मूल्यांकन नीति के आधार पर परिणामों की घोषणा की है। बोर्ड द्वारा गठित 13 सदस्यीय समिति के फैसले के मुताबिक 30 फीसदी अंक दसवीं बोर्ड परीक्षा के आधार पर, अगले 30 फीसदी अंक 11वीं कक्षा के और 40 फीसदी अंक 12वीं कक्षा के यूनिट, छ:माही परीक्षा और प्री-बोर्ड परीक्षाओं के आधार पर दिए गए हैं।

सीबीएसई परीक्षा नियंत्रक संयम भारद्वाज ने कहा, “अंक नीति को सफलतापूर्वक और निश्चित समय सीमा में लागू करने के लिए, शिक्षकों द्वारा किए जाने वाले कार्यों को महत्वपूर्ण माना गया था। इसलिए, स्कूलों की सुविधा के लिए और परिणामों के संकलन में उनकी सहायता करने व किसी भी त्रुटि से बचने के लिए सीबीएसई की आईटी टीम द्वारा एक व्यापक और सुविधा संपन्न प्रणाली विकसित की गई थी।”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *