माफिया मुख्तार अंसारी सहित 04 अपराधियों के विरूद्ध की गयी गैंगेस्टर एक्ट की कार्यवाही

माफिया मुख्तार अंसारी सहित 04 अपराधियों के विरूद्ध की गयी गैंगेस्टर एक्ट की कार्यवाही

स्थानीय संवाददाता की रिपोर्ट

मऊ: जनपद पुलिस-प्रशासन द्वारा संगठित अपराध, अपराधियों तथा उनके गुर्गाे के विरूद्ध की जा रही कार्यवाही के क्रम में अन्तरराज्यीय आपराधिक गैंग आईएस-191 के सरगना माफिया मुख्तार अंसारी पुत्र स्व0 सुबहान उल्लाह अंसारी सहित गैंग की 03 अन्य अपराधियों क्रमशः इसराईल अंसारी पुत्र अल्ताफ अंसारी उर्फ अल्ताफ हुसै, सलीम पुत्र स्व0 बदरूद्दीन व अनवर शहजाद पुत्र जमशेद रजा के विरूद्ध की गयी गैंगेस्टर एक्ट की कार्यवाही।

उल्लेखनीय है कि वर्ष 2020 में शस्त्र धारकों के शस्त्र सत्यापन एवं पता सत्यापन की कार्यवाही में पाया गया कि थाना दक्षिणटोला क्षेत्र में फर्जी नाम व निवास स्थान का कूटरचित अभिलेख लगाकर अवैध रूप से लाइसेंसी शस्त्र प्राप्त किया गया है जिसमें जांच के दौरान यह भी पाया गया कि उक्त अपराधियों द्वारा लोक सेवकों को डरा-धमका कर उक्त दस्तावेजों को धोखाधड़ी कर प्राप्त कर लिया गया था। जिसके आधार पर थाना दक्षिणटोला पर मुकदमा 4/20 धारा 419, 420, 467, 468 भादवि का अभियोग पंजीकृत किया गया था जिसमें उपरोक्त गैंग लीडर मुख्तार अंसारी सहित इसराईल अंसारी, सलीम व अनवर सहजाद के विरूद्ध आरोप पत्र माननीय न्यायालय में प्रेषित किया गया था जिसमें उक्त अपराधियों के द्वारा कई शस्त्र फर्जी नाम व निवास पर निर्गत करा लिये गये थे जिसमें अवैध शस्त्र जारी के मामले में अपराधियों के विरूद्ध कड़ी कार्यवाही के लिए शासन के तरफ से निर्देश प्राप्त हुये थे इसी क्रम में कार्यवाही करते हुए पुलिस की रिपोर्ट पर जिला मजिस्ट्रेट द्वारा उक्त अपराधियों का गैंग चार्ट अनुमोदित होने के उपरान्त उक्त अपराधियों के विरूद्ध थाना दक्षिणटोला पर मु0अ0सं0 55/21 धारा 3(1) यूपी गैंगेस्टर एक्ट की कार्यवाही की गयी जिसमें मुख्तार अंसारी व उनके गैंग के अन्य तीन सदस्यों के खिलाफ कार्यवाही की गयी है।


इनके द्वारा उक्त शस्त्रों के दुर्पयोग के सम्बन्ध में थाना हजरतगंज जनपद लखनऊ में अभियोग पंजीकृत है। इसके आलावा गैंग लीडर के विरूद्ध वाराणसी, गाजीपुर, सोनभद्र, चन्दौली, आगरा, दिल्ली व पंजाब में हत्या, अपहरण, लूट, धमकी सहित संगीन धाराओं में लगभग कुल 50 अभियोग पंजीकृत है तथा यह वर्तमान में जिला कारागार रोपड, पंजाब में निरूद्ध है। गैंग लीडर मुख्तार अंसारी द्वारा अपने लेटर पैड पर फर्जी पते पर शस़्त्र जारी करने हेतु निर्देश दिये जाते थे जिसके आधार पर उक्त शस्त्र लाइसेंस जारी हुए थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *