लोकतंत्र की रक्षा में गांधीजी के सूत्र महत्वपूर्ण: Ashok Gehlot

लोकतंत्र की रक्षा में गांधीजी के सूत्र महत्वपूर्ण: Ashok Gehlot

अशोक गहलोत (Ashok Gehlot) ने कहा कि हमें इन आयोजनों के माध्यम से देश की आजादी के आंदोलन, महापुरूषों के विचारों और हमारे संविधान के मूल्यों का अधिक से अधिक प्रचार-प्रसार करना चाहिए..
Advertisement

जयपुर: राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत (Ashok Gehlot) ने कहा है कि महात्मा गांधी (Mahatma Gandhi) की 150वीं जयन्ती वर्ष के उपलक्ष्य में आयोजित कार्यक्रमों का उद्देश्य बड़ी संख्या में आम लोगों और संस्थाओं को इन आयोजनों से जोड़कर राष्ट्रपिता के सत्य, अहिंसा और शांति के संदेश को नई पीढ़ी तक पहुंचाना है।

Mahatma Gandhi

अशोक गहलोत (Ashok Gehlot) शुक्रवार को मुख्यमंत्री निवास पर महात्मा गांधी (Mahatma Gandhi) की 150वीं जयन्ती कार्यक्रमों के विषय में कला, साहित्य, संस्कृति एवं पुरातत्व विभाग की बैठक की अध्यक्षता कर रहे थे। उन्होंने कहा कि हमें इन आयोजनों के माध्यम से देश की आजादी के आंदोलन, महापुरूषों के विचारों और हमारे संविधान के मूल्यों का अधिक से अधिक प्रचार-प्रसार करना चाहिए। माैजूदा परिस्थितियों में लोकतंत्र की रक्षा और संविधान की रक्षा के लिए आमजन को प्रोत्साहित करने में गांधीजी के सूत्र बहुत महत्वपूर्ण हैं।

Ashok Gehlot 1 अशोक गहलोत

अशोक गहलोत (Ashok Gehlot) ने कहा कि हमें अधिक से अधिक लोगों, विचारकों, विशेषज्ञों और संस्थाओं को साथ लेकर महात्मा गांधी (Mahatma Gandhi) के विचारों को जन-जन तक पहुंचाना होगा। इसके लिए केवल कुछ संगोष्ठी या कार्यक्रमों का आयोजन ही काफी नहीं है लिहाजा जयंती वर्ष के कार्यक्रमों को एक साल तक बढ़ाया गया है, ताकि ऎसे आयोजन लगातार चलते रहें। अशोक गहलोत (Ashok Gehlot) ने कहा कि कोविड-19 महामारी को देखते हुए ऎसे कार्यक्रम वेबीनार के माध्यम से मासिक और पाक्षिक अन्तराल पर आयोजित किए जाते रहें और इनमें अधिक से अधिक लोगों की भागीदारी सुनिश्चित की जाए।

Advertisement

इस अवसर पर अशोक गहलोत (Ashok Gehlot) ने विभाग के अधिकारियों को महात्मा गांधी (Mahatma Gandhi) की जीवनी पर आधारित लाइट एण्ड साउण्ड शो तैयार कराने के निर्देश दिए। अशोक गहलोत (Ashok Gehlot) ने कहा कि इस शो को उन स्थलों के आस-पास प्रदर्शित किया जाए, जहां बड़ी संख्या में देशी-विदेशी पर्यटक आते हैं। जयपुर में स्थापित होने वाले महात्मा गांधी म्यूजियम पर भी बैठक में विस्तृत चर्चा हुई।

कला संस्कृति मंत्री बीडी कल्ला ने बैठक में बताया कि आगामी 2 अक्टूबर को राज्य से लेकर जिला एवं ब्लॉक स्तर तक कार्यक्रम आयोजित किये जाएंगे। इन आयोजनों की थीम महात्मा गांधी (Mahatma Gandhi) का शांति एवं अहिंसा का संदेश होगा।

Advertisement

प्रिय मित्रों: अगर आप एक अच्छे लेखक है तो आप हमें संपादकीय लिख कर या किसी भी मुद्दे से संबधित अपनी राय, सुझाव और प्रतिक्रियाएं हमारे ई-मेल पर भेज सकते हैं । अगर हमारें संपादक को अपका लेख या मुद्दा सही लगा तो हम अपके मुद्दे को अपने समाचार पत्र एवं वेबसाइटपर प्रकाशित किया जाएगा। आप अपना पूरा नाम,फोटो व स्थान का नाम जरुर लिखकर भेजें।
अन्यथा उसके लेख एवं मुद्दे को प्रकाशित नहीं किया जाएगा।

Email: vashishthavani.news@gmail.com

वशिष्ठ वाणी भारत का प्रमुख दैनिक समाचार पत्र हैं, जिसमें हर प्रकार के समसामायिक-राजनीति, कानून-व्यवस्था न्याय-व्यवस्था, अपराध, व्यापार, मनोरंजन, ज्ञान-विज्ञान, खेल-जगत, धर्म, स्वास्थ्य व समाज से जुडे हुये हर मुद्दों को निष्पक्ष रुप से प्रकाशित किया जाता हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *