ADS (6)
ADS (5)
ADS (4)
ADS (3)
ADS (2)
previous arrow
next arrow
 
ADS (6)
ADS (5)
ADS (4)
ADS (3)
ADS (2)
previous arrow
next arrow
Shadow

फर्जी मिले दो और शिक्षकों के खिलाफ दर्ज होगी एफआईआर।

Screenshot 20210618 140847 WhatsApp

संवाददाता:-राकेश वर्मा

आजमगढ़ में एसटीएफ की जांच में फर्जी प्रमाणपत्रों के आधार पर बेसिक शिक्षा विभाग में सहायक अध्यापक की नौकरी प्राप्त करने वालों का राजफाश हुआ था।इसमें जनपद के छह शिक्षकों को चिह्नित किया गया था। जिसमें तीन शिक्षकों की सेवा समाप्त कर एफआइआर की कार्रवाई कराई जा चुकी है। जबकि दो और फर्जी शिक्षकों के खिलाफ एफआइआर कराने के लिए संबंधित खंड विकास अधिकारियों को निर्देश दिए गए हैं।शासन के निर्देश पर वर्ष 2018 से ही एसटीएफ फर्जी शिक्षकों की जांच कर रही है। जांच शुरू होने के बाद कई फर्जी शिक्षकों की सेवा समाप्त कर उन्हें उनके खिलाफ एफआइआर दर्ज कराई गई। जिले में कुल छह शिक्षक संदिग्ध पाए गए हैं। जिसमें तीन की सेवा समाप्त कर उनके खिलाफ एफआइआर दर्ज कराई जा चुकी है। जिसमें तहबरपुर ब्लाक के प्राथमिक विद्यालय केशवपुर बरतानी में तैनात सहायक अध्यापक वरुणेश कुमार, लालगंज के प्राथमिक विद्यालय इस्माइलपुर बरहती में तैनात अरुण कुमार मिश्र व अतरौलिया के प्राथमिक विद्यालय भिउरा में रिकी सिंह शामिल है। इसमें कई की गिरफ्तारी हो चुकी है। अब शिक्षा क्षेत्र मार्टीनगंज के प्राथमिक विद्यालय चकटेउखर में तैनात रहे सहायक अध्यापक अजय कुमार कुशवाहा और शिक्षा क्षेत्र हरैया के प्राथमिक विद्यालय विशेनकापुरा में तैनात रहे सहायक अध्यापक प्रवीण कुमार के खिलाफ एफआइआर दर्ज कराने का आदेश संबंधित खंड शिक्षा अधिकारी क्रमश: अवधेश नरायन सिंह व राजेश कुमार को दिए गए है।जिला विद्यालय निरीक्षक अंबरीष कुमार ने बताया कि अभिलेखों के सत्यापन में फर्जी मिले शिक्षकों की सेवा समाप्ति और उनके खिलाफ एफआइआर दर्ज कराने की कार्रवाई जारी है। शिक्षा क्षेत्र मार्टीनगंज व हरैया के प्राथमिक विद्यालयों में तैनात रहे दो और शिक्षकों के खिलाफ एफआइआर दर्ज कराने के लिए खंड शिक्षा अधिकारियों को आदेश पारित कर दिया गया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *