बाहर से दवा लिखने वाले डॉक्टरों की खैर नहीं : डीएम चन्दौली

बाहर से दवा लिखने वाले डॉक्टरों की खैर नहीं : डीएम चन्दौली

रिपोर्ट।। रन्धा सिंह

चंदौली- कलेक्ट्रेट सभागार में जिला स्वास्थ विभाग की बैठक संपन्न हुई। बैठक के दौरान जननी सुरक्षा योजना के तहत भुगतान शतप्रतिशत करा लिए जाने के लिए प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र बरहनी व पंडित कमलापति त्रिपाठी के सभी चिकित्सा प्रभारियों को दिए गये निर्देश। जिलाधिकारी ने जनपद में अब तक 1982 लाभार्थियों का भुगतान में लापरवाही बरतने वाले चिकित्सको को कड़ी फटकार लगाते हुए कहा कि आगामी 15 दिनों में अवशेष भुगतान किसी भी दशा में कराना सुनिश्चित करें। जननी शिशु सुरक्षा कार्यक्रम के तहत मानक के अनुसार निशुल्क भोजन उपलब्ध कराना सुनिश्चित किया जाए। डिस्चार्ज के पश्चात फोन कर माता और शिशु के स्वास्थ्य का फीडबैक लेकर रजिस्टर में भी अंकित कर लिया जाए।

जिलाधिकारी ने कहा जरूरी दवाओं की उपलब्धता सभी अस्पतालों में सुनिश्चित किया जाए डॉक्टर बाहर की दवाएं कत्तई न लिखें। शिकायत मिली तो खैर नहीं होगा। परिवार नियोजन कार्यक्रम की गतिविधियों को सुचारू रूप से संचालित किया जाए। पी0सी0 पी0एन0डी0टी0 एक्ट में पंजीकृत केंद्रों की नियमित जांच कराने के निर्देश के साथ यह सुनिश्चित हो कि ऐसे किसी भी केंद्र पर भुण परीक्षण न कराया जा रहा हो।

102 व 108 नंबर एंबुलेंस में ऑक्सीजन सहित सभी सुविधाएं मानक के अनुसार हमेशा उपलब्ध रखा जाए व समय से कॉल आने पर पहुंचे, इसमें किसी भी प्रकार की शिथिलता ठीक नहीं। गर्भवती महिलाओं व बच्चों का समय से समस्त टीकाकरण कराएं सभी टीके समय से लगवाया जाना प्रभारी चिकित्सक सुनिश्चित कराएं। जिलाधिकारी ने सभी चिकित्सकों को निर्देशित करते हुए कहा कि लक्ष्य के अनुसार नियमित टीकाकरण सुनिश्चित करें।

कुष्ठ रोग निवारण हेतु रोगियों के चिन्हीकरण एवं उनका समुचित उपचार सुनिश्चित हो वेक्टर वार्न रोगों के निवारण के लिए सभी आवश्यक कार्यवाही सुनिश्चित करते हुए संभावित क्षेत्रों को चिन्हित करते हुए ठोस कार्रवाई करें।आयुष्मान योजना अंतर्गत लाभार्थियों के गोल्डन कार्ड कैंप लगाकर शत-प्रतिशत कराना सुनिश्चित करें और शेष गोल्डन कार्ड अतिरिक्त प्रयास के साथ बनवाए जाने का कार्य लगातार जारी रखें। वित्तीय वर्ष समाप्ति होने वाला है इसको देखते हुए आवंटित धनराशि को समुचित ढंग से खर्च करने की कार्रवाई करें, धनराशि भुगतान में वित्तीय नियमों का पूर्णतया पालन सुनिश्चित किया जाए।

दिनांक 1 मार्च से 31 मार्च तक चलाए जाने वाले विशेष संचारी रोग व दस्तक अभियान के सफल संचालन हेतु सभी आवश्यक तैयारियां कर लिया जाय। सर्वे टीमों का गठन कर कार्य योजना के अनुसार कार्रवाई सुनिश्चित करें। गाइडलाइन के अनुसार चिकित्सालयों/ स्वास्थ्य केंद्रों के कायाकल्प की कार्रवाई कराएं।


इस बैठक के दौरान मुख्य विकास अधिकारी अजितेंद्र नारायण, मुख्य चिकित्साधिकारी, मुख्य चिकित्सा अधीक्षक पंडित कमलापति त्रिपाठी जिला विद्यालय निरीक्षक, मुख्य कोषाधिकारी, अपर मुख्य चिकित्सा अधिकारी, प्रभारी चिकित्साधिकारीगण व संबंधित विभागों के अधिकारी उपस्थित रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *