जिला प्रशासन आजमगढ़ के निःशुल्क सहायक उपकरण वितरण शिविर का आयोजन

रिपोर्टर:-राकेश वर्मा / आजमगढ़: जिला चिकित्सालय सदर (डीडीआरसी) आजमगढ़ में भारत सरकार सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्रालय के दिव्यांगजन सशक्तीकरण विभाग के अधीन कार्यरत भारतीय कृत्रिम अंग निर्माण निगम एलिम्को कानपुर द्वारा एवं एडिप योजना के अन्तर्गत एवं जिला प्रशासन आजमगढ़ के निःशुल्क सहायक उपकरण वितरण शिविर का आयोजन जिलाधिकारी राजेश कुमार व मा0 सांसद आजमगढ़ के प्रतिनिधि विजय यादव की उपस्थिति में किया गया। इस अवसर पर जिलाधिकारी द्वारा बताया गया कि इसमें कोई संदेह नहीं कि सहायक उपकरण प्राप्त करने वाले लाभार्थी सक्षम हैं समर्थ है। इन सहायक उपकरणों के माध्यम से लाभार्थियों को स्वावलम्बी व सशक्त करने और उन्हें समाज की मुख्य धारा से जोड़ने का एक प्रयास है।

सरकार द्वारा दिव्यांगजनों के हितार्थ उपकरण वितरण योजना के अन्तर्गत पूरे जनपद में चिन्हांकन शिविर का आयोजन कराया गया है तथा उपकरण वितरण का कार्यक्रम कराया जा रहा है। सरकार का उदेश्य है कि कोई भी पात्र दिव्यांगजन कृत्रिम अंग उपकरण योजनान्तर्गत वंचित न रहे। दिवयांगजनों को समाज की मुख्य धारा से जोड़ने एवं स्वावलम्बी बनाने के लिए सतत् प्रयास किया जा रहा है।जिलाधिकारी द्वारा जिला दिव्यांगजन सशक्तीकरण अधिकारी को निर्देशित किया गया कि जो भी दिव्यांगजन आज के कैम्प में उपस्थिति हुए हैं तथा पूर्व में जिनके प्रार्थना पत्र नहीं भरे गये थे उनके प्रार्थना पत्र पूर्ण कराते हुए मोबाईल नम्बर अंकित करते हुए उन्हें भी शीघ्र उपकरण उपलब्ध कराये जाय।

वितरण कैम्प में आजमगढ़ सासंद प्रतिनिधि विजय यादव द्वारा बताया गया कि दिव्यांगजनों में प्रतिभा की कोई कमी नहीं होती है। शारीरिक रूप से जो कमी होती है उसके आधार पर उपकरण प्रदान किये जाते हैं, जिससे वे अपने कार्य सहजता से कर लेते हैं और समाज की मुख्य धारा से जुड़ते हुए सामान्य व्यक्तियों की तरह सभी कार्य करने में सक्षम हो जाते हैं। विनय कुमार मौर्य विपणन अधिकारी एलिम्को द्वारा बताया गया कि परीक्षण कैम्प में चयनित 30 लार्थियों को ट्राईसाइकिल, 04 लाभार्थियों को व्हील चेयर, 02 लाभार्थियों को बीटीई कान की मशीन, 28 बैसाखी, एक रोलेटर, 06 वाकिंग स्टीक, 07 कृत्रिम अंग एवं कैलिपर आदि उपकरण वितरित किये गये हैं।

वितरण कार्यक्रम में कोविड-19 से सम्बन्धित सभी सावधानियों एवं सरकार के दिशा निर्देशों का पालन करते हुए दिव्यांगजनों के एक निश्चित अन्तराल के दौरान उपकरणों का वितरण किया गया। उपनिदेशक दिव्यांगजन सशक्तीकरण विभाग, आजमगढ़ मण्डल आजमगढ़ जेपी सिंह द्वारा विभाग द्वारा संचालित योजनाओं की विस्तृत जानकारी दी गयी तथा बताया गया कि जनपद आजमगढ़ में गत वर्ष 5071 और वर्तमान वित्तीय वर्ष में 1939 नवीन दिव्यांग पेंशन स्वीकृत की गयी है। विगत तीन वर्षों के अन्तर्गत लगभग तीन हजार दिव्यांगजनों को कृत्रिम अंग उपकरण प्रदान किये गये हैं।

सरकार की यह मंशा है कि दिव्यांग भरण पोषण अनुदान, पेंशन तथा कृत्रिम अंग उपकरण योजना के अन्तर्गत कोई पात्र वंचित न रहें। यदि कोई दिव्यांगजन जिसकी दिव्यांगता 80 प्रतिशत हो तो मोर्टराइज्ड ट्राई साईकिल का आनलाईन आवेदन शीघ्र एक सप्ताह के अन्दर उपलब्ध करा दें, जिससे नियमानुसार कार्यवाही करते हुए पात्र लाभार्थियों को चयन कराकर विभाग से धनराशि की मांग करते हुए लाभान्वित कराया जा सके।इस अवसर पर सीएमओ डॉ0 एके मिश्रा, रेडक्रास सोसयटी से केके सिंह, एलिम्को विपणन अधिकारी विनय कुमार मौर्य, जमीर वती, अमित त्रिवेदी एवं अन्य वरिष्ठ अधिकारी एवं कर्मचारी उपस्थिति रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *