संसदीय क्षेत्र चंदौली में विकास कार्य जोरों पर

संसदीय क्षेत्र चंदौली में विकास कार्य जोरों पर

  • रिपोर्टर: दीपक कुमार सिंह

वाराणसी/चंदौली: चोलापुर विकास खंड क्षेत्र के नियार बाजार जो वाराणसी जनपद के उत्तर पुर्व सीमा पर स्थित है जिला मुख्यालय से 30 किमी दूर यह बाजार आजादी के बाद एक लम्बे अन्तराल तक सार्वजनिक सुविधाओं से वंचित रहा। केन्द्रीय मंत्री डॉ महेन्द्र नाथ पाण्डेय के संसदीय क्षेत्र में पड़ने वाले इस क्षेत्र में दर्जनों गांवों का समुह है भौगोलिक दृष्टि से तीन तरफ से गोमती नदी से घिरा नदी उस पार गाजीपुर एवं जौनपुर के दर्जनों गांवों के लोगों का आना जाना लगा रहता है लेकिन आवागमन की सुविधा का अभाव इस बाजार के विकास की गति पर एक विराम लगा रखा था।

यह बाजार अपनी टुटी फुटी सड़क के लिए जाना पहचाना जाता था। आजमगढ़ रोड पर धरसौना बाजार से निकले नियार सम्पर्क मार्ग जो एक समय में जिले का सबसे लम्बा टुटा रास्ता माना जाता था। एक चुने जनप्रतिनिधि की जिम्मेदारी का निर्वहन करने वाले स्थानीय सांसद ने सर्वप्रथम इस क्षेत्र के लोगों के लिए बाबतपुर घाट पर पक्के पुल की आधारशिला उत्तर प्रदेश में अपने राज्यमंत्री के कार्यकाल में रखी थी।

सांसद बनने के बाद इस क्षेत्र के प्रमुख धर्मस्थल वनस्पति देवी मन्दिर का सुन्दरीकरण वहां यात्री विश्रामालय, सार्वजनिक शौचालय,पाथ वे, स्ट्रीट लाइट, ब्रेन्च,नदी किनारे पक्के घाट का निर्माण आदि की स्थापना वहां जाने वाले दर्शनार्थियों के लिए बेहतर गुणवत्ता की सार्वजनिक सुविधाओं को स्थापित कराया, यह मन्दिर अब आकर्षण के केन्द्र में हैं उल्लेखनीय है कि वनस्पति देवी मन्दिर का महत्व वाराणसी ही नहीं गाजीपुर, जौनपुर के दर्जनों गांवों के लोगों की आस्था का प्रतीक माना जाता है।

इस क्षेत्र के मुख्य मार्ग धरसौना-नियार मार्ग का चौड़ीकरण कर दो लेन की उच्च मानक की सड़क केन्द्रीय मार्ग निधि से बनवा कर क्षेत्रीय सांसद व केंद्रीय मंत्री डाॅ. महेंद्र नाथ पाण्डेय ने वर्षों की जटिल समस्या का समाधान कराया साथ ही इस सड़क पर 13 किमी की दूरी में सांसद निधि से कुल तीन यात्री प्रतीक्षालय प्रमुख बाजारों में कुल चार हाई मास्क लाइटे इस समुचे क्षेत्र में पुर्वांचल में विकास पुरूष के नाम से जाने जाने वाले डॉ महेंद्र नाथ पाण्डेय की छवि को मजबूत बनाती है इस सड़क पर चलने के बाद एक बार आंखों को विश्वास ही नहीं होगा कि हम ग्रामीण क्षेत्र की वर्षों से उपेक्षित सड़क पर यात्रा कर रहे हैं।

क्षेत्रीय जनता एवं कार्यकर्ताओं की मांग पर हाल ही में रजला घाट पर एक पीपे का पुल राज्य सरकार से स्वीकृत कराया है जिसका फायदा दर्जनों गांवों को सीधे मिलेगा जो वर्तमान समय में बना है इसके अतिरिक्त रघुवंशी समाज के लिए महत्वपूर्ण तीर्थ पुकार राय के चबूतरे पर भी वहां जाने वाले श्रद्धालुओं के लिए विश्रामालय का निर्माण कराया गया है साथ ही वाराणसी शहर के दो स्थल सारनाथ एवं पहड़िया चौराहे तक बेला तिराहे से दो अन्य सड़को का निर्माण केन्द्रीय मार्ग निधि से पुरा हो चुका है शहर के इन प्रमुख स्थलों का सीधा सम्पर्क दो अच्छी सड़कों के माध्यम से हो गया है इसके अतिरिक्त दर्जनों गांवों में सम्पर्क मार्गों का भी निर्माण सांसद डॉ महेंद्र नाथ पाण्डेय ने कराया है।

जिला मीडिया प्रभारी एवं सांसद मीडिया समन्वयक श्रीनिकेतन मिश्र ने बताया कि सांसद डॉ महेंद्र नाथ पाण्डेय जी भविष्य में नियार क्षेत्र के विकास के लिए अन्य विकल्प पर विचार कर रहे हैं फिलहाल13 किमी लम्बी सड़क पर धरसौना बाजार से चलते ही आपको आराम दायक सफर का आनंद मिलने लगेगा इस पुरी सड़क पर बने यात्री प्रतीक्षालय, बड़ी-बड़ी लाइटे, जल निकासी के लिए बनी पक्की नालियां सांसद चन्दौली के विकास पुरुष वाली छवि को और मजबूती प्रदान कर रहा है।

रजला घाट पीपे के पुल के निर्माण के साथ ही गाजीपुर, जौनपुर जनपद के अनेक गांवों के लोगों का नियार बाजार से सीधा सम्पर्क बाजार में रोजगार के अनेक अवसर बनेंगे भविष्य में इस घाट पर पक्के पुल की आधारशिला भी रखी जायेगी ऐसा लोगों को विश्वास है यह विश्वास डॉ महेन्द्र नाथ पाण्डेय के 30 वर्षों के जनप्रतिनिधि के रुप में राजनीतिक जीवन की विकास वादी सोच एवं उसे वास्तविक रूप में परिवर्तित करने की क्षमता की प्रमाणिकता के साथ बना है तथा इस सभी कार्यों से क्षेत्र में उन्हें विकास पुरुष के भी नाम से जाना जाता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *