गुरुकुल स्कूल और बेरफूट संस्था द्वारा “शिक्षा की रक्षा अभियान” जारी

गुरुकुल स्कूल और बेरफूट संस्था द्वारा “शिक्षा की रक्षा अभियान” जारी

गुरुकुल स्कूल और बेरफूट संस्था की एक शानदार पहल

ADS BOOK

मुंबई (वशिष्ठ वाणी): शिक्षण विभाग द्वारा मार्च 2021 के सर्वेक्षन नुसार लाखो विद्यार्थी करोना महामारी के चलते शिक्षा के मुख्य प्रवाह से दूर हो गए है। इन में से 2,50,000 से भी ज्यादा विद्यार्थी अकेले 9वी कक्षा से है। इस समस्या के अनेक कारणों में से एक महत्वपूर्ण कारण है अभिभावकों की फीस ना भर पाने की स्तिथी।

इस बिकट समस्या के समाधान हेतु गुरुकुल स्कूल (Gurukul School) और बेरफूट संस्था (Barefoot Sanstha) मिलकर मुंबई के विभिन्न झोपड़पट्टी के 25 स्कुलो के 1000 जरूरतमंद बच्चों को शिष्यवृत्ति मुहया कराने हेतु “शिक्षा की रक्षा अभियान” चला रहे है। आर्थिक मदत के अलावा इन स्कुलो को तकनिकी और विषयानुरूप प्रशिक्षण भी दिया जाएगा।

यह भी पढ़े: अनाथ बच्चों को पालने की सोच को सच बनाएं

गुरुकुल स्कूल एवं जूनियर कॉलेज के प्रधानाचार्य फरीद शेख (Principal Farid Shaikh) ने बताया की, कुछ अनुभवी स्कूल विभिन्न सामाजिक संस्थाओ के साथ मिलकर अपने विद्यार्थियों को मदत पहुचाने में समर्थ है, परन्तु सारे स्कूल ऐसा नहीं कर पाते। करोना काल में गुरुकुल स्कूल के कार्यो को देखकर काफी स्कुलो ने हमसे मदत कर ने के लिए संपर्क किया। इसी बात को ध्यान में रखते हुए हमने इस अभियान की रचना की, जिसमे भाग लेनेवाले सभी स्कुलो को सहायता मिल सके।

epaper scaled

प्रधानाचार्य फरीद शेख ने कहा की “शिक्षा की रक्षा अभियान” अनुभवी और कम अनुभवी स्कुलो का एक बेहतरीन मिश्रण है। इस में (Online Crowdfunding, Corporate) और दानशूर व्यक्तियो की मदत से पहले पड़ाव में 1000 बच्चो की सहायता की जाएगी। भविष्य में मिलने वाले प्रतिसाद नुसार दुसरे पड़ाव में और भी बच्चो को मदत पहुचाने का लक्ष है। इस अभियान में मालवाणी, धारावी, गोवंडी, ट्रोम्बे, कांदिवली आदि झोपड़पट्टी में शिक्षा प्रसार का महान काम कर रहे स्कूल शामिल है।

Youtube sansadvani

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *