यूपी पंचायत चुनाव: मैनपुरी की मतगणना जारी

यूपी पंचायत चुनाव: मैनपुरी की मतगणना जारी

यूपी पंचायत चुनाव के लिए आज मैनपुरी की मतगणना जारी है। इस बीच, मैनपुरी (यूपी) की कई ग्राम पंचायतों के नतीजे सामने आए हैं। जबकि जिले में पहला परिणाम कुरावली ब्लॉक की ग्राम सभा तरोली से आया है, जहां सुधा चौहान ने अपने प्रतिद्वंद्वी को हराकर जीत हासिल की है।

इसके अलावा, खिचोली, भरतपुर, सुजुआर देहात, रोहिंगपुर, दुल्लहपुर, नगला ओसार, बेलहर, सहादतपुर आदि के लोगों ने भी अपना प्रमुख चुना है।

Click Now: ASSEMBLY Election Results 2021 Updates

ये विजयी ग्राम प्रधान हैं

सुधा चौहान ने अपने प्रतिद्वंद्वी को हराकर कुरावली ब्लॉक की ग्राम सभा टरोली से जीत हासिल की है।

कुसुमा देवी कुरावली ब्लॉक में सहादतपुर ग्राम सभा से जीती हैं।

कुरावली ब्लॉक की भरतपुर ग्राम सभा से वंदना पत्नी मनोज कुमार विजयी रही हैं।

कुरावली ब्लॉक की ग्राम सभा रोशनपुर से प्रदीप कुमार जीते हैं।

रूबी पत्नी गुलशन कुरावली ब्लॉक के सुरजई गांव से जीती हैं।

कुरावली ब्लॉक में ग्राम सभा बेलहर से रामेंद्र पाल सिंह जीते हैं।

कुरावली ब्लॉक में ग्राम सभा खिचोली से रीता देवी विजयी हुई हैं।

कुरावली ब्लॉक की ग्राम सभा, दुल्लहपुर और नगला उसार के नतीजे भी आए हैं।

बता दें कि सुप्रीम कोर्ट द्वारा पंचायत चुनावों की मतगणना पर रोक लगाने से इनकार करने के बाद, आज सुबह 8 बजे से यूपी के 75 जिलों में वोटों की गिनती का काम शुरू हो गया है। यूपी में त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव चार चरणों में हुए थे।

कोविद -19 प्रोटोकॉल का पालन करना आवश्यक है

राज्य निर्वाचन आयुक्त मनोज कुमार ने सभी जिलाधिकारियों और जिला निर्वाचन अधिकारियों को प्रत्येक मतगणना केंद्र पर चिकित्सा सहायता डेस्क खोलने का आदेश दिया है। इसके अलावा, यह स्पष्ट रूप से कहा गया है कि कोविद -19 को लक्षण होने पर मतगणना स्थल में प्रवेश करने की अनुमति नहीं दी जाएगी। उन्होंने कहा कि मतगणना हॉल या परिसर में प्रवेश के समय, सभी लोगों की थर्मल स्कैनिंग अनिवार्य होगी। आयोग ने विजय जुलूस पर प्रतिबंध लगा दिया है और किसी भी उम्मीदवार को विजय जुलूस निकालने की अनुमति नहीं दी जाएगी। मतगणना की शुरुआत से 48 घंटे पहले उम्मीदवारों और एजेंटों को मतगणना केंद्र में प्रवेश करने की अनुमति दी जाएगी, केवल आरटीपीआरसी या रैपिड एंटीजन परीक्षा की नकारात्मक रिपोर्ट दिखाए जाने के बाद। मतगणना केंद्र जाने वाले सभी लोगों को मास्क लगाना जरूरी होगा।

भाजपा, सपा, कांग्रेस, आम आदमी पार्टी और ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लिमीन जैसी राजनीतिक पार्टियों ने भी पंचायत चुनाव में अपने उम्मीदवार उतारे हैं। हालांकि, इन दलों के उम्मीदवारों ने पार्टी के चुनाव निशान पर नहीं, बल्कि आयोग द्वारा दिए गए व्यक्तिगत चुनाव निशान पर मैदान में उतरे। उत्तर प्रदेश के 75 जिलों में चार चरणों में त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव के लिए वोट डाले गए थे। पहले चरण में मतदान 15 अप्रैल को, दूसरे 19 अप्रैल को, तीसरे में 26 अप्रैल को और चौथे चरण में 29 अप्रैल को मतदान हुआ था। राज्य में ग्राम पंचायत प्रधान के 58,194, ग्राम पंचायत सदस्य के 7,31,813, राज्य पंचायत सदस्य के 75,808 और जिला पंचायत सदस्य के 3,051 पदों के लिए वोट डाले गए हैं।

मात्र 100 रुपये में आप एक वर्ष के लिए ईपेपर वशिष्ठ वाणी दैनिक समाचार पत्र को सब्सक्राइब करें और अपने व्हाट्सएप्प और ईमेल आईडी पर एक वर्ष तक निःशुल्क ईपेपर प्राप्त कर पूरे दुनिया की समाचार पढ़े, और साथ ही एक वर्ष तक अपने विज्ञापन को निःशुल्क प्रकाशित भी करवायें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *