कोरोना कहर: शपथ ग्रहण के पूर्व  ग्राम प्रधान की हुई मौत

कोरोना कहर: शपथ ग्रहण के पूर्व ग्राम प्रधान की हुई मौत

बीते बीस अप्रैल से आक्सीजन व कोरोना संक्रमण से जिंदगी और मौत की जंग लड़ रहे थे विपिन अंत मे कोरोना संक्रमण ने ले ली जान
  • संवाददाता कमलेश गुप्ता

रोहनिया: स्थानीय थाना क्षेत्र के ग्राम पंचायत देउरा के नव निर्वाचित ग्राम प्रधान विपिन सिंह कौशल का इलाज के दौरान रोहनिया के एक निजी हॉस्पिटल में रविवार दोपहर मौत हो गया। मौत होने की खबर लगते हैं परिजनों में कोहराम मच गया और गांव में शोक की लहर दौड़ पड़ी। प्राप्त जानकारी के मुताबिक ग्राम पंचायत देउरा के नव निर्वाचित ग्राम प्रधान विपिन सिंह कौशल का स्वास्थ्य बीते 20 अप्रैल को अचानक खराब होने से परिजनों ने उन्हें इलाज के लिए रोहनिया के एक निजी हॉस्पिटल में भर्ती कराया जहां उनकी उपचार चल रही थी रविवार दोपहर 2 बजे अचानक ऑक्सीजन लेवल शून्य होने पर एकाएक उन्होंने दम तोड़ दिया।

Head of Village 1

मौत की खबर लगते हैं परिजनों में कोहराम मच गया। वहीं जांच के दौरान विपिन सिंह कौशल कोरोना पॉजिटिव भी पाए गए थे जिसकी इलाज भी उक्त हॉस्पिटल के कोविड रूम में चल रही थी। मृतक दो भाइयों में सबसे बड़ा था।मृतक के पास एक पुत्री रोशनी 16 वर्ष व दो पुत्र क्रमशः इंद्रजीत 12 वर्ष व विश्वजीत 10 वर्ष है,पत्नी सीमा व माता रामदेई का रो-रोकर बुरा हाल। मृतक पेशे से ईंट सप्लायर था। पिता रामदुलार उर्फ मुसब्बि लाल फल बेचने का कार्य करते है।

आराजी लाइन विकास खण्ड के देउरा ग्राम पंचायत में पहली बार चुनाव लड़कर जीत हासिल करने वाले विपिन सिंह कौशल अभी शपथ ग्रहण भी नही लिए थे कि उसके पहले ही कोरोना ने अपना शिकार बना लिया। माता रामदेई व पत्नी सीमा पुत्री रोशनी रो रोकर कर रही थी कि गाँव मे बहुत काम करने का सपना सजोये थे मेरे पापा हो भईया अब के के पापा कहब हो भईया चच्चा और हमनी के अकेले छोड़के काहे चल गइल हो पापा कह कहकर बेहोश हो जा रही थी रोशनी। नव निर्वाचित ग्राम प्रधान का अंतिम संस्कार बेटावर घाट पर किया गया मुखाग्नि पिता रामदुलार उर्फ मुसब्बि लाल ने दी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *