ओवरलोड ट्रक पर अब 50 हजार लगेगा जुर्माना: कमिश्नर

ओवरलोड ट्रक पर अब 50 हजार लगेगा जुर्माना: कमिश्नर

  • बनारस में शहर-देहात सभी ऑटो सीएनजी के होंगे
  • आरटीए की बैठक में नये प्राइवेट मार्गों पर 200 से अधिक बसों को परमिट स्वीकृत हुआ

महेश पाण्डेय ब्यूरो चीफ

वाराणसी: कमिश्नर दीपक अग्रवाल की अध्यक्षता में गुरुवार को आयुक्त सभागार में संभागीय परिवहन प्राधिकरण की बैठक हुई। ट्रकों के ओवरलोडिंग से सड़कों को खराब होने को गंभीरता से लेते हुए व्यापक स्तर पर ओवरलोडिंग की चेकिंग करने तथा ओवरलोड ट्रक पर 50 हजार रुपए जुर्माना करने का सर्वसम्मति से निर्णय हुआ। शहर में अभी भी प्रेशर हॉर्न वाले वाहन चलने की समस्या पर कमिश्नर ने कड़े शब्दों में कहा कि प्रेशर हॉर्न वाले वाहनों को पकड़े और पता करके उन विक्रेता ऑटो पार्ट्स दुकानों पर भी कार्यवाही करें जो प्रेशर हॉर्न बेचते हैं।


कमिश्नर दीपक अग्रवाल ने कहा कि ई-रिक्शा शहर में आड़े तिरछे खड़े होते हैं, जिससे सड़कों पर जाम की समस्या बनी रहती है इन्हें पंक्तिबद्ध खड़े कराएं। स्कूल बसों को सीएनजी में कन्वर्ट कराने की कार्यवाही की जाए। वाराणसी के शहर व ग्रामीण क्षेत्रों के सभी ऑटो सीएनजी में कन्वर्ट कराएं। इसके लिए 6 माह में कार्य पूर्ण कर लिया जाए। ऑटो में सीएनजी के कलर कोट निर्धारित हैं।

उसके लिए अब केवल नीली पट्टी पेंट करानी होगी। बैठक में नए प्राइवेट मार्गों पर 200 से अधिक परमिट बसों के स्वीकृत का निर्णय हुआ। अच्छी कंडीशन वाली सिटी बसें भी सीएनजी में कन्वर्ट कराने का निर्णय लिया गया।इस अवसर पर आरएम रोडवेज, संभागीय परिवहन अधिकारी, एआरटीओ सहित बस, ट्रक, ऑटो आदि मोटर वाहन संघों के प्रतिनिधि गण उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *