रासायनिक उर्वरकों से जैविक संरचना को खतरा

रासायनिक उर्वरकों से जैविक संरचना को खतरा

संवाददाता प्यारेलाल यादव

चिरईगांव: स्थानीय विकास खण्ड के ग्राम पंचायत खरगीपुर में सोमवार को नमामि गंगे योजना अंतर्गत सर्विस प्रोवाइडर सिम फेंड के द्वारा जैविक मेले का आयोजन किया गया। मेले में उपस्थित किसानों को जैविक खेती से होने लाभ व गुणवत्ता के बारे में विस्तृत जानकारी देते हुए भूमि संरक्षण अधिकारी अमित मिश्रा ने बताया कि रासायनिक खादों के अंधाधुन प्रयोग से जमीन की जैविक संरचना का सर्वनाश हो रहा है।

उपजाऊ भूमि में कार्बनिक अंश खत्म हो रहे हैं। और जमीन पूरी तरह से बंजर होती जा रही हैं। जिसका असर फसलों के उत्पादन पड़ता है। इसलिए रासायनिक उर्वरकों का प्रयोग बंद करके जैविक खाद का प्रयोग करें। श्री मिश्र ने बताया कि फसलचक्र अपनाते हुए किसान हरी खाद ,वर्मी कंपोस्ट का प्रयोग करें।जिससे मिट्टी की उर्वरा शक्ति बढ़ेगी और कम लागत में अधिक उत्पादन होगा।जिससे किसान भाइयों की आय भी बढ़ेगी। मेले में मुख्य रूप से एडीओ एजी कैलाश मौर्य,सुधीर सिंह पप्पू (ब्लॉक प्रमुख पति) दिनेश मौर्य ,प्रदीप सिंह कुशवाहा ,अनिल सिंह ,इंद्रमणि ,संतोष, कमलेश प्रजापति,नागेंद्र सिंह तथा क्षेत्र के अन्य प्रधान व किसान उपस्थित रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *