किराना व्यवसायी मनीष गुप्ता का शव फरेन्दा स्टेशन पर मिला

किराना व्यवसायी मनीष गुप्ता का शव फरेन्दा स्टेशन पर मिला

रिपोर्टर:-प्रदीप दुबे

गाजीपुर: दुल्लहपुर गाजीपुर के दुल्लहपुर बाजार के किराना के थोक व्यापारी जयप्रकाश मधेशिया के छोटे पुत्र मनीष गुप्ता सोनू 26 फरवरी को शाम परिवारिक कलह के वजह से बिना कुछ बताएं चले गए।कुछ लोगों ने बताया कि शाम की इंटरसिटी एक्सप्रेस ट्रेन पर चढ़ते हुए देखा था। तबसे परिजनों व दोस्तो द्वारा खोजबीन की गई लेकिन कही भी मनीष गुप्ता उम्र लगभग 31की पता नही चल सका। मृतक के पिता जयप्रकाश मघेसिया ने दुल्लहपुर थाने पर शनिवार को गुमशुदगी की रिपोर्ट दर्ज कराई थी। उसके बाद मीडिया ,फेसबुक ,टिवटर के माध्यम से लापता को खबर प्रमुखता से चली।

इसी दरम्यान कुछ हार मानकर तांत्रिक से भी पूछा गया था जिसमे बताया गया था कि सोमवार को शाम तक मनीष लौट आएगा।लेकिन सोमवार की सुबह सोशल मीडिया ,टिवटर से मनीष की शव की सूचना मिली।सूचना मिलते ही परिवार के लोग बिलखने लगें।धीरे धीरे क्षेत्रीय व्यापारी व नेताओ ने घर पहुँचकर ढाढ़स बधाने पहुँचे।

महराजगंज जिले के फरेन्दा जंक्शन पर शव शुक्रवार की मृत अवस्था मे मिला। दुर्ग नौतनवा एक्सप्रेस ट्रेन में शव मिला था जिसको रेलवे पुलिस ने फरेन्दा स्टेशन पर उतारकर लावारिश हालत में पोस्टमार्टम भेजा था। मृतक मनीष गुप्ता की शादी 2013 में प्रियंका से हुई थी। तथा उसकी 5वर्ष की बच्ची पीहू थी। मृतक मनीष अपने बड़े भाई संजीव ,राजीव, दिलीप थे।सभी लोग अपने व्यवसाय में जुटे रहे।

ऐसी घटना की सूचना मिलने के बाद उधोग व्यापार मंडल के अध्यक्ष राजेश मधेशिया, लालजी यादव, राहुल साहू, सुनील मधेशिया, पारस गुप्ता, राजेन्द्र राम, मधुसूदन पाण्डेय, गुड्डु सोनकर ,अनिल पाण्डेय, सुधीर गुप्ता ,सुरेश साहू, अजय साहू सहित अन्य लोग परिवार को सांत्वना देते रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *