खपड़िया बाबा की पुण्यतिथि पर हुआ भंडारा

खपड़िया बाबा की पुण्यतिथि पर हुआ भंडारा

  • पन्द्रह माह अनवरत चलेगा हरिकीर्तन

रिपोर्ट: प्यारेलाल यादव

वाराणसी: चिरईगांव स्थानीय विकास खण्ड के धराधर (देवरिया) परम् सन्त खपड़िया बाबा मंदिर पर बीते चार माह से हरिकीर्तन अनवरत जारी है।जो पन्द्रह माह तक अनवरत जारी रहेगा। 28 जनवरी खपड़िया बाबा की पुण्यतिथि पर भव्य भंडारे का आयोजन किया गया था। जिसमें बाबा के अनुयायियों ने प्रसाद ग्रहण किया।

बाबा की पुण्यतिथि पर हुआ भंडारा 1

ज्ञात हो खपड़िया बाबा असमाजिक कुरीतियों व आडम्बरों से दूर रहने और प्रभु का संकीर्तन हरे राम ,हरे राम, राम राम हरे हरे,,हरे कृष्ण, हरे कृष्ण ,कृष्ण कृष्ण हरे हरे,,का मूल मंत्र दिया करते थे।बाबा का मानना था कि कलयुग में भौसागर से पार उतरने का यही एक मूल मन्त्र है।

खपड़िया बाबा जब कभी काशी आते थे तो उनका ठहरने का स्थानीय ब्लॉक मां गंगा के किनारे बसे गांव धराधर (देवरिया) गंगा कुटी पर रुककर विश्राम करते थे।गांव के बुजुर्गों की माने तो बाबा जबतक कुटी पर रहते थे।लगातार हरिकीर्तन चलता रहता था।

मंदिर कमेटी के प्रबंधक जगदीश यादव का कहना है कि हरिकीर्तन बीते चार माह से जारी है और आगे पन्द्रह महीना अनवरत जारी रहेगा।हरिकीर्तन में क्षेत्र के कीर्तन प्रेमी बड़े श्रद्धाभाव से अपनी बारी आने पर हरिकीर्तन कर रहे हैं।इसके अलावा महिलाएं भी बहुत ही लगन के साथ कीर्तन कर रही है।

अभी दर्जनभर गांवो के कीर्तन प्रेमी बारी-बारी लगे हुए हैं।यदि इकतीस कीर्तन टीमें सम्लित हो जाएगी तो एक टीम का नम्बर माह में एक आएगा।भंडारा कार्यक्रम में मुख्य रूप से कपिल, रामसिंह, मोहन, गणेश दत्त,घनश्याम, अशोक, राजेन्द्र यादव सहित अन्य लोग सक्रिय रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *