बैंक ऑफ बड़ौदा की परेशान करने वाली पॉलिसी

बैंक ऑफ बड़ौदा की परेशान करने वाली पॉलिसी

Bank of Baroda's disturbing policy

वाराणसी: बैंक ऑफ बड़ौदा (Bank of Baroda) की घुमाने वाली पॉलिसी (POLICY) सभी बैंक से अलग आपको बैंक ऑफ बड़ौदा के नियम में कुछ ऐसे बदलवा है जिससे यह पता चलता है कि यह नियम सिर्फ जनता को परेशान करने के लिए बनाया गया है।

ऑफ बड़ौदा 1

अब हम आपको बताते उस पॉलिसी की जिससे लोगों की परेशानी बढ़ गई है, अगर आपका खाता बैंक ऑफ बड़ौदा (BANK OF BARODA) में है और किसी ने आपको बैंक ऑफ बड़ौदा का चेक दिया है और आप किसी कारण से वाराणसी उत्तर प्रदेश में आए है तो यहां बैंक ऑफ बड़ौदा के मैनेजर चेक लगाने के लिए मना कर देंगे, उनकी दलील भी सुन कर आप काफी हैरान हो जाएंगे, उनका यह कहना है कि आप जो चेक लेकर आए हैं वह खाता मुंबई का हैं, तो हम यह चेक नहीं ले सकते हैं अगर आप दोनों में से किसी एक का खाता यहां वाराणसी उत्तर प्रदेश में होता तो हम यह चेक ले सकते थे।

अब हम बैंक ऑफ बड़ौदा (BANK OF BARODA) के अधिकारियों से और लंका वाराणसी में जो बैंक ऑफ बड़ौदा बैंक का ब्रांच है, वहा के मैनेजर से पूछना चाहूंगा कि अगर जो व्यक्ति बैंक ऑफ बड़ौदा में खाता खुलवा चुका है और वह किसी काम से दूसरे राज्य में आया है तो क्या उसे चेक जमा करने के लिये उसे उस राज्य में सबसे पहले खाता खुलवाना होगा?

क्या आर बी आई (Reserve Bank of India) भी यह कहती हैं कि आप जहां जाएंगे उस राज्य में सबसे पहले खाता खोलेंगे उसके बाद चेक जमा करेंगे? क्या यह सही पॉलिसी है क्या वह बैंक एक ही पता पर दूसरे राज्य में खाता खोल सकेगी? या सिर्फ जनता को परेशान करने के लिए यह नियम बनाए गए हैं?

जब वशिष्ठ वाणी के पत्रकार ने बैंक ऑफ बड़ौदा (BANK OF BARODA) के मैनेजर से सवाल जवाब करना चाहा तो उस मैनेजर ने बदतमीजी से बात करना शुरू कर दिया। यह मैनेजर जब एक पत्रकार ऐसी बात कर रहा है तो अपने ग्राहक से कैसे बात करता होगा? हमने यह भी सूत्रों से पता चलाया है कि जब इस बैंक मैनेजर से कोई भी सवाल जवाब करने जाता है तो वह अपने गार्ड को बुला कर उसे बाहर करवा देता है।

जब इस विषय को लेकर हम बैंक ऑफ बड़ौदा के अधिकारियों से शिकायत करना चाहे तो उन्होंने नज़रअंदाज़ करते हुए हमें एक लिंक लिंक शेयर किया कि आप यहां पर अपनी शिकायत दर्ज करे।

अब इनसे कोई भी नहीं लड़ सकता क्यूंकि यह सिस्टम का एक हिस्सा है और सिस्टम से आज तक कौन लड़ पाया है और जिसने लड़ा उसमे से कितने लोगो को कामयाबी मिल पाई होगी?

महान हैं भारत सरकार (India Government) और महान है आर बी आई (RBI) में बैठे वो अधिकारी जो ऐसे मैनेजर और पॉलिसी के उप्पर कोई कार्रवाई नहीं करता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *