बाबा रामदेव का कोविद टेस्ट भी हो सकता है

बाबा रामदेव का कोविद टेस्ट भी हो सकता है

  • पतंजलि में लोग कोरोना पॉजिटिव हैं

हरिद्वार। उत्तराखंड में कोरोना का कहर अब बढ़ता जा रहा है। साथ ही इस महामारी ने पतंजलि योगपीठ में भी दस्तक दे दी है। पतंजलि योगपीठ, हरिद्वार में 83 लोगों को कोरोना संक्रमित पाया गया है। सभी संक्रमित को अलग कर दिया गया है। अब बताया जा रहा है कि बाबा रामदेव का कोरोना टेस्ट भी हो सकता है। इतनी बड़ी संख्या में संक्रमित लोगों के मिलने के बाद प्रशासन में भी हड़कंप मच गया है। साथ ही पतंजलि पीठ में मौजूद अन्य लोगों की कोरोना जांच भी की जा रही है।

जानकारी के अनुसार पतंजलि योगपीठ के कई संस्थानों में हर दिन कोरोना के मरीज मिल रहे हैं। हरिद्वार के सीएमओ डॉ। शंभू झा ने कहा कि 10 अप्रैल से पतंजलि योगपीठ आचार्यकुलम और योग ग्राम में 83 कोरोन संक्रमित पाए गए हैं। पतंजलि परिसर में इन कोरोना रोगियों को अलग-थलग कर दिया गया है। सीएमओ ने कहा कि अगर जरूरत पड़ी तो बाबा रामदेव की भी जांच होगी।

इससे पहले, ऑल इंडिया इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल साइंसेज, ऋषिकेश में ओपीडी को बंद कर दिया गया है। आधिकारिक सूत्रों ने कहा कि महामारी के बढ़ते मामलों के कारण, अस्थायी रूप से ओपीडी को बंद करने का निर्णय लिया गया है। उन्होंने कहा कि अस्पताल में कोविद रोगियों के लिए 200 बेड हैं, जिन्हें जरूरत पड़ने पर 500 तक बढ़ाया जा सकता है।

उत्तराखंड में कोरोना संक्रमण की बढ़ती गति को देखते हुए, सरकार ने प्रतिबंधों को और अधिक कठोर बना दिया है। इसे देखते हुए तीरथ सिंह रावत सरकार ने पूरे राज्य में रात के कर्फ्यू की अवधि बढ़ा दी है। कोरोना की रोकथाम के लिए जारी नए एसओपी के तहत अब राज्य के सभी जिलों में सुबह 9 बजे से सुबह 5 बजे तक रात का कर्फ्यू रहेगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *