कोविड-19 से बचाव और बाल श्रम उन्मूलन व मानव तस्करी की रोकथाम के लिए हुई जागरूकता सह प्रशिक्षण

कोविड-19 से बचाव और बाल श्रम उन्मूलन व मानव तस्करी की रोकथाम के लिए हुई जागरूकता सह प्रशिक्षण

  • रिपोर्टर: राजकुमार गुप्ता

वाराणसी: जिले के विकास खण्ड आराजीलाईन के बढैनी कला (पैड़ेगांव) में मंगलवार को ग्राम पंचायत स्तर की कोविड-19 की निगरानी समिति तथा बाल संरक्षण समिति को धरातल पर लाने को स्वास्थ्य कार्यकर्ताओं और ग्रामीणों के साथ जागरूकता सह प्रशिक्षण कार्यक्रम का आयोजन एक्शन एड की ओर से आयोजित किया गया। कार्यक्रम में तृतीय चरण के स्टार परियोजना के जिला समन्वयक राजकुमार गुप्ता ने आये हुए लोगों को कोरोना से बचने तथा लोगों को बचाने के उपाय बताते हुए बताया कि इस वैश्विक महामारी में बाल श्रम और मानव तस्करी जैसे अपराध बढ़ने की संभावना ज्यादा है।

बाल श्रम और मानव तस्करी के लिए तस्कर गांव से अधिक संख्या में लोगों को बहला फुसलाकर ले जाने की संभावना है आप लोग उनके बहकावे न आइए। किसी से भेदभाव न करते हुए शारीरिक दूरी बनाएं रखें लोगों से हाथ न मिलाये भीड़भाड़ वाली जगह पर 2 गज की दूरी बनाए। इस कार्यक्रम के माध्यम से लोगों को बाल श्रम उन्मूलन व मानव तस्करी की रोकथाम के लिए प्रेरित किया गया साथ ही ड्रॉप आउट और आउट आफ स्कूल के बच्चों को स्कूल खुलने पर अधिक से अधिक नामांकन की बात कहा गया। डा. सबा बानो ने लोगों का हाथ सेनेटाइज कराकर सामाजिक दूरी को बनाकर लोगो को कोरोना महामारी से बचने के उपाय को लेकर जोर दिया है।

संचालन करते हुए प्रेरक डा. शिवकुमार गुप्ता ने लोगों को बाल श्रम व मानव तस्करी की रोकथाम के लिए संस्था की ओर से चलायी जा रही परियोजना स्टार के बारे में जानकारी दी गई। महिलाओं व बच्चों के लिये चलाई जा रही योजनाओं के बारे में विस्तार से बताया गया। राजकुमार ने बच्चों के अधिकार, शिक्षा का अधिकार, बाल श्रम अधिनियम के साथ ही बच्चों व महिलाओं से सम्बंधित हेल्पलाइन नम्बरों के बारे में भी बताया।

शिक्षाधिकार अधिनियम 2009 के बारे में जानकारी देते हुए बताया की 6 -14 साल तक के प्रत्येक बच्चे का शिक्षा प्राप्त करना मौलिक अधिकार है, और उन्होंने आउट ऑफ स्कूल बच्चों का चिन्हीकरण करने व उनका स्कूल में नामांकन कराने में सहयोग किए जाने को कहा। बाल श्रमिक बच्चों का चिन्हीकरण कर उनको विद्यालय में नामांकित किए जाने को लेकर भी सर्वे फारमेट दिया गया। संचालन शिवकुमार गुप्ता ने किया।

इस अवसर पर डा. अमित, डा. सबा बानो, डा. शिवकुमार गुप्ता, राजकुमार गुप्ता, डा. अजयभान सिंह, डा. शीतला, डा. चन्द्रशेखर, डा. विनोद, डा. राजकुमार, डा. आमिर खान, पिंटू आदि स्वास्थ्य कार्यकर्ता उपस्थित थे।

One thought on “कोविड-19 से बचाव और बाल श्रम उन्मूलन व मानव तस्करी की रोकथाम के लिए हुई जागरूकता सह प्रशिक्षण

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *