(adsbygoogle = window.adsbygoogle || []).push({});
Mon. Apr 15th, 2024

क्या म्हाडा के अधिकारी है लापरवाह? फेडरेशन के पदाधिकारियों द्वारा अवैध पार्किंग वसूली के चक्कर में लोगों के जान से कर रही है खिलवाड़…

फायर ब्रिगेड के अधिकारियों ने भी एसीपी आरटीओ से की शिकायत..

खुलेआम अवैध पार्किंग वसूली की रसीद सोसाइटी के पर्ची पर बनाकर दिया जा रहा है..

म्हाडा के वाइस प्रेसिडेंट श्री मिलिंद बोरीकर से कई बार शिकायत करने के बाद भी किसी अधिकारी के कान में जूं तक नहीं रेंगा..

मालवाणी/मुम्बई/वशिष्ठ वाणी। गायकवाड़ नगर, गेट नंबर आठ, मालवानी में डॉ ए पी जे अब्दुल कलाम सहकारी गृहनिर्मान संस्था द्वारा अवैध पार्किंग वसूली की जा रही है, और वसूली के चक्कर में लोगों का जान को ताक पर रखकर पार्किंग वसूली की जा रही है, और सवाल पूछने पर कोई जवाब नहीं दिया जा रहा है?

फेडरेशन बना कर खुलेआम अवैध पार्किंग वसूली..

हम अपने पाठकों को और महाराष्ट्र सरकार को बता दें कि मालवाणी गेट नंबर आठ पर म्हाडा की बिल्डिंग है, जहा पर कुछ मलाई खोर व्यक्ति द्वारा फेडरेशन बना कर अवैध पार्किंग वसूली खुलेआम कर रहा है, और उसे किसी का डर नहीं है, और डर होगा भी क्यों हम जिस मलाई खोर के बारे में बात कर रहे वह अपने ही बिल्डिंग 10 वर्ष तक सचिव और अभी 2 वर्ष से अध्यक्ष बना है, और वह इस पद पर बैठकर खुलेआम रूम दलाली भी करता है।

१२ वर्षों से सोसाइटी के पद पर बैठ कर, बन गया २ फ्लैट का मालिक है।

कहने को तो वह एक ऑटो रिक्शा चालक है, पर १२ वर्ष से सोसाइटी के पद पर बैठकर इसने कई सारी संपत्ति बना ली, जैसे: जिस बिल्डिंग में यह सोसाइटी का अध्यक्ष है उसमे ही वह २ फ्लैट का मालिक, और गांव में फार्म हाउस, और अंबुजवाड़ी में भी जगह खरीद रखी है, अब सवाल तो उठेगा की यह सब के लिए राशि कहा से आया? कही सोसाइटी के फंड का दुर्पयोग तो नहीं किया गया? यह सारी शिकायत म्हाडा के वाइस प्रेसिडेंट श्री मिलिंद बोरीकर से कई बार की गई, पर ६ माह बीत जाने के बाद भी अभी तक कुछ नहीं हुआ? बल्कि कार्रवाई करने के बजाय प्रति वर्ष म्हाडा के कुछ अधिकारी ही उसे सचिव और अध्यक्ष बनाने में अपना सहयोग देते है, अब यह सब देखकर उस मलाई खोर का मनोबल तो बढ़ना ही है, हम उस मलाई खोर का नाम भी आपको बताते है उसका पूरा नाम बालासाहेब तुकाराम भगत है, और वह फेडरेशन का अध्यक्ष भी है।

फेडरेशन के पदाधिकारियों द्वारा पार्किंग के चक्कर में रास्ता ब्लॉक करके लोगो के जान से कर रहे है खिलवाड़..


आपको यह भी बता दें कि जिस जगह पर भगत पार्किंग वसूली कर रहा है वह जगह म्हाडा ने इसलिए दिया है कि अगर बिल्डिंग में कोई दुर्घटना होती हैं तो उस रास्ते से फायर ब्रिगेड की गाड़ी अंदर आ सके, पर फेडरेशन के पदाधिकारियों को उससे कुछ भी लेना देना नही वह तो लोगों के जान को ताक पर रखकर पार्किंग वसूली में लगे हैं।

क्या म्हाडा के अधिकारी है लापरवाह?

महाराष्ट्र सरकार को हम यह भी सूचित करना चाहते है कि हमारे मीडिया द्वारा इसके खिलाफ काफी बार म्हाडा के कार्यालय में शिकायत कर चुके हैं, पर म्हाडा के अधिकारी इतने लापरवाह है की अभी तक कुछ भी नहीं किया गाया, अब यह सब देख कर फेडरेशन के अध्यक्ष भगत का मनोबल काफी बढ़ा ही होगा और वह निडर हो कर गाड़ी खड़ा करवा कर पार्किंग वसूली कर रहा है, और साथ ही पार्किंग की रसीद सोसाइटी के पर्ची पर बनाकर दे रहा है। अब यह सब इसलिए कर रहा है की वह समझ गया है की कही भी शिकायत हो कोई कार्रवाई नहीं होने वाली है तो वह अपने अवैध कार्य को आगे बढ़ाते जा रहा है।

  • फेडरेशन के पदाधिकारियों द्वारा पार्किंग के लिए जगह दी जाती है, और सोसाइटी के सचिव द्वारा राशि वसूली की जाती है, यह रसीद उसका प्रमाण है…

वशिष्ठ वाणी न्यूज द्वारा जब भी फेडरेशन के पदाधिकारियों से इस विषय पर सवाल पूछे जाते हैं तो फेडरेशन के पदाधिकारियों द्वारा एक ही जवाब मिलता है की आप मीडिया वाले हमे डरा रहे है, और फेडरेशन के पदाधिकारियों द्वारा यह बोला जाता है की मीडिया पदाधिकारियों से सवाल नहीं पूछ सकती है, फेडरेशन के पदाधिकारियों का यह भी बोलना है की मीडिया के जो भी सवाल है वह म्हाडा के अधिकारियों से पूछा जाए, अब यह समझना मुश्किल हो रहा है की फेडरेशन के पदाधिकारियों द्वारा पार्किंग वसूली की जा रही है, पार्किंग वसूली के चक्कर में फेडरेशन के पदाधिकारियों द्वारा लोगों के जान से खिलवाड़ हो रहा है, और सवाल हम म्हाडा के अधिकारियों से पूछे?

अगर कोई दुर्घटना घटित होती है तो उसका जिम्मेदार कौन होगा?

महाराष्ट्र सरकार को हमारी मीडिया यह भी सूचित करना चाहती हैं की अगर बिल्डिंग में किसी भी कारण कोई दुर्घटना होती हैं, और फायर ब्रिगेड की गाड़ी अंदर नहीं आ पाती है तो फिर इसका जिम्मेदार कौन होगा? क्योंकि फेडरेशन के अध्यक्ष भगत से जब भी यह सवाल पूछा जाता है तो उसका जवाब आता है की वह फायर ब्रिगेड की गाड़ी नहीं बुलाएगा बल्कि वह हेलीकॉप्टर मंगवा लेगा, अब यह सब सुनकर हसी और गुस्सा भी आता है की यहां पर 3 हजार से ज्यादा ही लोग रहते है और यह फेडरेशन का अध्यक्ष भगत सभी के जान से खिलवाड़ के साथ मजे भी ले रहा है। और कोई अधिकारी कुछ करने के बजाय सब चुप बैठे हैं।

Related Post

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *