बेतहाशा पेट्रोलियम उत्पादों के दर बढ़ोत्तरी पर,अत्यधिक एवं सार्वजनिक लूट का एक उदाहरण-:कांग्रेस नेता

बेतहाशा पेट्रोलियम उत्पादों के दर बढ़ोत्तरी पर,अत्यधिक एवं सार्वजनिक लूट का एक उदाहरण-:कांग्रेस नेता

संवाददाता प्रदीप दुबे

गाजीपुर। बेतहाशा पेट्रोलियम उत्पादों के दर बढ़ोत्तरी पर कांग्रेस नेताओं और कार्यकर्ताओं ने शुक्रवार को वरिष्ठ नेता डा. मारकंडेय सिंह के खालिसपुर स्थित पेट्रोल पम्प शिवा फीलिंग स्टेशन पर विरोध प्रदर्शन किया। इस मौके पर जिलाध्यक्ष सुनील राम ने कहा कि कोरोना महामारी के बीच भी पूरे देश में पेट्रोल एवं डीजल की कीमतों में जबरदस्त उछाल देखने को मिल रहा है, जबकि वैश्विक बाजार में कीमतें काफी कम हैं। ईंधन की कीमतों में यह ऐतिहासिक और निरंतर वृद्धि ऐसे समय में हो रही है, जब नागरिक कोविड-19 की दूसरी लहर के प्रभाव से जूझ रहे हैं। लॉकडाउन से रोजी-रोटी तक कि समस्या गंभीर हो चुकी है।
उन्होंने कहा कि पेट्रोल-डीजल की बढ़ती कीमतों के चलते सभी घरेलू सामानों और आवश्यक वस्तुओं की कीमतों में अप्रत्याशित वृद्धि हो चुकी है और यही हाल रहा तो और वृद्धि होना भी निश्चित है। पिछले 13 महीने में पेट्रोल और डीजल में 25.72 और 23.93 रुपए प्रति लीटर की वृद्धि हुई है, और इस साल के पिछले 5 महीनों में यह वृद्धि 43 बार दर्ज की गई है। केंद्र सरकार द्वारा जनता से की जा रही अत्यधिक एवं सार्वजनिक लूट का एक उदाहरण है। वर्तमान भाजपा सरकार आपदा को अवसर के रूप में भुनाने में लगी हुई है, जिससे आम जनता आक्रोशित है। प्रदर्शनकारियों ने पेट्रोल, डीजल एवं ईंधन के मूल्य वृद्धि वापस लेने तथा वर्तमान पेट्रोलियम मंत्री से इस्तीफे की मांग की। प्रदर्शन करने वालों में कांग्रेस के पूर्व विधायक व एआईसीसी सदस्य अमिताभ अनिल दुबे, राजीव कुमार सिंह, लाल साहब यादव, मंसूर जैदी, अजय कुमार श्रीवास्तव, राजेश गुप्ता, आशुतोष गुप्ता, कैलाशपति कुशवाहा, सबीहूल हसन, आदिल, दिव्यांशु पांडेय, मिलिंद सिंह, देवेंद्र सिंह, संजय गुप्ता, राजेंद्र भारती, पत्ती बिंद, ओमप्रकाश भारद्वाज, आशीष पांडेय, ओमप्रकाश पांडेय, नितीश सिंह, दीपक खरवार, डा. सुमेर कुशवाहा, देवेंद्र सिंह, श्रीप्रकाश गुप्ता आदि मौजूद रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *