अलका राय ने प्रियंका के नाम लिखा एक और सियासी खत

अलका राय ने प्रियंका के नाम लिखा एक और सियासी खत

संवाददाता प्रदीप दुबे

गाजीपुर से हैं जहां गाजीपुर के मोहम्मदाबाद विधायक अलका राय ने एक बार फिर कांग्रेस कमेटी की राष्ट्रीय महासचिव प्रियंका वाड्रा को पत्र लिखा है। 15 मार्च को राष्ट्रीय महासचिव को प्रेषित पत्र में विधायक ने लिखा है कि महोदया, एक बार फिर मैं आपसे माफिया मुख्तार अंसारी के मामले पर अपनी बात कहते हुए आपका ध्यान आकर्षि करते हुए पत्र प्रेषित कर रही हूं। जैसा कि सर्वविदित है कि एक तरफ आपने माफिया मुख्तार अंसारी को पंजाब की जेल में संरक्षण देते हुए राज्य अतिथि बनाया हुआ है, वही दूसरी तरफ आपकी पंजाब सरकार के जेल मंत्री सुखजिंदर सिंह रंधावा माफिया मुख्तार अंसारी के मेहमान बनकर उनके गुर्गों के साथ उत्तर प्रदेश में गुपचुप यात्राएं करते है।

महोदया, मैं एक विधवा हूं, मुझे लगता था कि एक महिला होने के नाते आप मेरे दर्द को समझेंगी, लेकिन आपने ना तो मेरे किसी भी चिट्ठी का जवाब दिया,और नहीं मेरे दर्द को समझा बल्कि इसके उलट मुख्तार अंसारी को बचाने के लिए लाखों रुपए के वकील सुप्रीमकोर्ट में खड़े कर दिए।

राय ने प्रियंका के नाम लिखा एक और सियासी खत

मेरे साथ जो हुआ या जो घटित हो रहा है, वह अगर आपके साथ हुआ होता तो आपको मेरे दर्द का एहसास होता। महोदया, आपके और आपकी पार्टी के अगाध माफिया प्रेम का उदाहरण सबके सामने है, जिसमें आप और आपकी कांग्रेस पार्टी की शासित पंजाब सरकार एक ओर तो मुख्तार अंसारी को बचा रही है और दूसरी तरफ पंजाब सरकार के जेल मंत्री मुख्तार के शरण में उत्तर प्रदेश घूम रहे हैं।

इसलिए अब मुझे अपने और अपने परिवार के जान का खतरा महसूस हो रहा है। मैं एक बार फिर कह रही हूं कि मुख्तार अंसारी के खिलाफ लड़ाई लड़ रहे किसी भी व्यक्ति को अगर कुछ होता है तो उसकी जिम्मेदारी आपकी और आपके पार्टी की पंजाब सरकार की होगी। आशा है कि आप इस बार मेरे इस पत्र का जवाब देंगी, साथ ही कुछ ठोस कगम उठाएंगी।

गौरतलब है मुख्तार अंसारी को पंजाब से जेल से यूपी में लाने के लिए इससे पहले भी विधायक अलका राय प्रियंका वाड्रा को दो बार पत्र लिख चुकी हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *