कृषि सुधार कानून  2020

कृषि सुधार कानून 2020

  • विषय पर एक दिवसीय राष्ट्रीय संगोष्ठी का आयोजन

रिपोर्टर:-प्रदीप दुबे

गाजीपुर: तकनीकी शिक्षा एवं शोध संस्थान, पीजी कालेज, ग़ाज़ीपुर के सभागार में शनिवार को “वर्तमान परिप्रेक्ष्य में कृषक एवं कृषि सुधार कानून- 2020 ” विषय पर एक दिवसीय राष्ट्रीय संगोष्ठी का आयोजन किया गया। कार्यक्रम की शुरुआत मुख्य अतिथि प्रो० राजेश सिंह कुलपति दीन दयाल उपाध्याय गोरखपुर विश्विद्यालय, गोरखपुर, विशिष्ठ अतिथि पद्मश्री डॉ० कँवल सिंह चौहान, सदस्य गवर्निंग बॉडी, आईसीएआर, नई दिल्ली, विशिष्ठ अतिथि पद्मश्री चंद्रशेखर सिंह, सदस्य केंद्रीय बीज समिति, कृषि एवं किसान कल्याण मंत्रालय, भारत सरकार, विशिष्ठ अतिथि अरुण कुमार सिंह, पूर्व अध्यक्ष कृषि प्रसार शिक्षा, बीएचयू, वाराणसी एवं अजीत कुमार सिंह, अपर महाधिवक्ता उ0प्र0 सरकार , सचिव/प्रबंधक, स्नातकोत्तर महाविद्यालय गाजीपुर द्वारा माँ सरस्वती की प्रतिमा पर माल्यार्पण कर और सरस्वती वंदना के साथ हुई।

संरक्षक अजीत कुमार सिंह और प्राचार्य डॉ समर बहादुर सिंह ने सम्मानित अतिथिगण को अंगवस्त्र , स्मृति चिन्ह एवं पुष्पगुच्छ प्रदान कर स्वागत एवं अभिनंदन किया। मुख्य अतिथि राजेश सिंह ने वर्तमान कृषि सुधार कानून 2020 के सम्बन्ध में विस्तार पूर्वक बताया।

उन्होंने बताया की कृषि कानून 2020 पूर्णतया किसानो के हित में है और वर्षों से चली आ रही किसानों की स्थिति को बदलने वाली है। कण्ट्रोल बाई फार्मर और रन बाई फार्मर हेतु उन्होंने एफपीओ की स्थापना और स्टार्टअप के बारे में समझाया।

उन्होंने बताया की पूर्वांचल के किसानों हेतु 1000 स्टार्टअप लगाने हेतु राज्य सरकार से आदेश भी आ गया है। मुख्य अतिथि राजेश सिंह जी ने शिव वाटिका उद्यान में वृक्षारोपण किया और महाविद्यालय की लैब और लाइब्रेरी का भ्रमण भी किया। उन्होंने कृषि विज्ञानं केंद्र का भ्रमण कर वहाँ की कृषि कार्यविधियों की सराहना की और कृषि के नए उपायों को बताया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *