लगभग 1 करोड़ सरकारी धन गबन करने में शामिल आरोपी गिरफ्तार

लगभग 1 करोड़ सरकारी धन गबन करने में शामिल आरोपी गिरफ्तार

महेश पांडेय ब्यूरो चीफ

वाराणसी: वर्ष 2016-17 में राष्ट्रीय राजमार्ग संख्या 29 मऊ गोरखपुर मार्ग विस्तारीकरण के कारण श्री ब्रह्म बाबा जूनियर हाईस्कूल हेमई अमिला तहसील घोसी मऊ की भूमि अधिग्रहित करने की कार्रवाई की गई थी। विधिक प्रक्रिया के बाद अधिग्रहित भूमि के प्रति कर स्वरूप सरकारी धन ₹1,01,37,712 का भुगतान प्रबंधक श्री ब्रम्ह बाबा जूनियर हाईस्कूल के खाता में किया गया।

परंतु बबलू मौर्या पुत्र राजेंद्र मौर्या निवासी जमीन फरेंदा थाना कंधरापुर जनपद आजमगढ़ के द्वारा श्री ब्रह्म बाबा जूनियर हाईस्कूल का फर्जी प्रबंधक बनकर वर्ष 2017 में कारपोरेशन बैंक मऊ नाथ भंजन शाखा में कूट रचित दस्तावेजों के आधार पर वर्ष 2017 में कार्पोरेशन बैंक मऊ नाथ भंजन शाखा में श्री ब्रह्म बाबा जूनियर हाई स्कूल का प्रबंधक स्वयं को दिखाकर एकल चालू खाता खोलकर सरकारी धनराशि रू0- 1,01,37,712 सहयोगी अभियुक्तों के साथ मिलीभगत कर धोखाधड़ी से निकाल कर गबन कर लिया।


इस घटना के संबंध में 22-02-2018 को कारपोरेशन बैंक के तत्कालीन शाखा प्रबंधक श्री दीपक सुमन के द्वारा थाना घोसी जनपद मऊ मुकदमा संख्या 66/2018 धारा 419, 420, 467,468, 471, 409, 120 बी का अभियोग पंजीकृत कराया गया हैं। घोसी पुलिस के द्वारा नामजद मुख्य अभियुक्त बबलु मौर्य को गिरफ्तार कर जेल भेजने की कार्रवाई की जा चुकी है। प्रकरण की गंभीरता को देखते हुए उत्तर प्रदेश शासन ने इस मुकदमे की विवेचना आर्थिक अपराध अनुसंधान संगठन वाराणसी को आवंटित किया। विवेचक ने मौखिक एवं अभिलेखीय साक्ष्य संकलन के पश्चात इस अभियोग में अभियुक्त बबलू मौर्या के साथ-साथ लेखपाल मोहम्मद फरीद पुत्र स्वर्गीय सुब्बा ग्राम घोघवा थाना खानपुर जनपद गाजीपुर एवं गिरफ्तार अभियुक्त चन्द्रजीत चौहान पुत्र सूबेदार चौहान निवासी बनौरा सुल्तानपुर थाना दक्षिण टोला जनपद मऊ की संलिप्तता इस धनराशि में पाया हैं।


आज दिनांक 23 फरवरी 2021 को आर्थिक अपराध अनुसंधान संगठन वाराणसी सेक्टर के पुलिस अधीक्षक डी. प्रदीप कुमार के द्वारा गठित टीम में निरीक्षक सुनील कुमार वर्मा, और उनके टीम निरीक्षक विंध्यवासिनी मणि त्रिपाठी, हेड कांस्टेबल शशिकांत सिंह, का0 विनीत पांडेय, का0 सुनील मिश्रा ने इस प्रकरण मे वांछित अभियुक्त चंद्रजीत चौहान की गिरफ्तारी उनके निवास स्थान से किया गया है अभियुक्त के द्वारा साजिश कर मुख्य आरोपी बबलू मौर्या के बैंक में खाता खुलवाते समय अकाउंटेंट ओपनिंग फॉर्म भर अपनी पहचान और बबलू मौर्या के फोटो और अभिलेख की पहचान और सत्यापन किया गया जिसके आधार पर ही बैंक में खाता खुला। गिरफ्तार अभियुक्त को स्पेशल जज भ्रष्टाचार निवारण गोरखपुर के न्यायालय में प्रस्तुत करने की कार्रवाई की जा रही है इस घटना में शामिल लेखपाल मोहम्मद फरीद की गिरफ्तारी 2 दिन पूर्व ईओडब्ल्यू वाराणसी के द्वारा जेल भेजने की कार्रवाई की जा चुकी है। घटना में शामिल अभियुक्तों को गिरफ्तार कर लिया गया है।


गिरफ्तारी में शामिल टीम में निरीक्षक सुनील कुमार वर्मा निरीक्षक श्री विंध्यवासिनी मणि त्रिपाठी, हेड कॉन्स्टेबल शशिकांत सिंह, का0 विनीत पांडेय, कां0 सुनील कुमार मिश्र ईओडब्ल्यू वाराणसी तथा थाना दक्षिण टोला मऊ के उपनिरीक्षक श्री सरफराज खां व आरक्षी दिव्यांश सिंह शामिल रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *