—बचपन में ही बेटे के सर से हट गया बाप का साया

  • संवाददाता आर्येन्द्र पाल सिंह

शाहजहांपुर/वशिष्ठ वाणी। कलान से सोमवार की सुबह करीब पांच बजे ड्यूटी के दौरान एटा जिले मे सरकारी दस्तावेज लेकर बाइक से जा रहे सिपाही करन कुमार (28) की बदायूं जनपद सिविल लाइन थाना क्षेत्र हाईवे पर किसी अज्ञात वाहन के टक्कर लगने से मौत हो गई। पुलिस ने सिपाही के शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा है।

करन कुमार सरकारी दस्तावेज लेकर जा रहे थे एटा।

अलीगढ़ जनपद के गांव बैनाबूडा निवासी करन कुमार (28) शाहजहांपुर जनपद के कलान थाने में सिपाही के पद पर तैनात थे। करन 2018 बैच के सिपाही थे। इन्होंने अपनी पूरी ट्रेनिंग मुरादाबाद मैं की थी मुरादाबाद ट्रेनिंग पूरी होने के बाद शाहजहांपुर पुलिस लाइन भेजा गया जहां करन कुमार ने लगभग 5 से 6 महीने पुलिस लाइन में ड्यूटी की पुलिस लाइन से 2019 में थाना परौर के लिए भेजा गया। दो साल इन्होने परौर थाने मे ड्यूटी की परौर थाने से कलान थाने ट्रांसफर किया गया। सोमवार की सुबह बाइक से सरकारी दस्तावेज लेकर एटा जनपद के लिए जा रहे थे. पुलिस लाइन थाना क्षेत्र में किसी अज्ञात वाहन ने बाइक में टक्कर मार दी। हादसे में करन गंभीर रूप से घायल हो गए. सूचना पर पहुंची पुलिस ने गंभीर घायल अवस्था नजदीकी अस्पताल में भर्ती कराया जहां डॉक्टर ने हालत गंभीर देखते हुए बरेली रेफर कर दिया जहां उन्होंने इलाज के दौरान दम तोड़ दिया। परिजनों को मौत की सूचना मिलते ही पैरों तले जमीन खिसक गई. घर में मातम छा गया।

घटना की सूचना पर पहुंचे थाना अध्यक्ष धर्मेंद्र कुमार।

थाना प्रभारी धर्मेंद्र कुमार ने बताया की करन सरकारी दस्तावेज लेकर एटा जा रहे थे. करन ने सोचा कि समय पर पहुंच जाएंगे तो काम निपटा कर वापस भी आ सकते हैं. परौर थाने से इनका इनका स्थान्तरण हुआ था अभी लग भग तीन चार महीने पहले 2018 बैच के सिपाही थे. इन्होंने 2019 के दिसंबर माह में करन ने शादी की थी इनके पास एक एक साल का बेटा भी है। घर पर सांत्वना देने वालों का तांता लगा हुआ है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Previous post विवादों से जूझ रहा सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र सन्हौला
Next post महाराष्ट्र में कोरोना की तीसरी लहर का खतरा: नवाब मलिक