कोविड-19 के संक्रमण के दौरान निराश्रित हुए बच्चों के लिए चलाई जा रही मुख्यमंत्री बाल सेवा योजना की समीक्षा बैठक आयोजित की गई।

कोविड-19 के संक्रमण के दौरान निराश्रित हुए बच्चों के लिए चलाई जा रही मुख्यमंत्री बाल सेवा योजना की समीक्षा बैठक आयोजित की गई।

संवाददाता:-राकेश वर्मा

आजमगढ़ :- उत्तर प्रदेश राज्य बाल अधिकार संरक्षण आयोग की सदस्य डॉक्टर शुचिता चतुर्वेदी की अध्यक्षता में कलेक्ट्रेट सभागार में आजमगढ़ मंडल के जनपद बलिया, मऊ एवं आजमगढ़ में कोविड-19 के संक्रमण के दौरान निराश्रित हुए बच्चों के लिए चलाई जा रही मुख्यमंत्री बाल सेवा योजना की समीक्षा बैठक आयोजित की गई। डॉ0 शुचिता चतुर्वेदी ने अधिकारियों को निर्देश दिया कि निराश्रित हुए बच्चों को सरकार की योजनाओं का लाभ शत प्रतिशत दिलाना सुनिश्चित करें। उन्होंने कहा कि कोविड-19 के दौरान जिन बच्चों के माता-पिता की मृत्यु हो गई है उनका विशेष ध्यान रखते हुए पढ़ाई, खाना एवं उनके संरक्षण की व्यवस्था की जाए। उन्होंने कहा कि तीनों जनपदों के अंतर्गत निराश्रित हुए बच्चों का विस्तृत विवरण बाल स्वराज पोर्टल पर अपलोड किया जाएl उन्होंने कहा कि 5 वर्ष से कम उम्र के बच्चों का सत्यापन कराकर स्कूल में प्रवेश दिया जाना सुनिश्चित करें। डा0 चतुर्वेदी ने अधिकारियों को निर्देश दिया कि नया सवेरा योजना के अंतर्गत बच्चों को श्रम (मजदूरी) से मुक्त किया जाए। उन्होंने कहा कि बच्चों के अभिभावकों को समझाकर बच्चों को स्कूल में प्रवेश दिलाएंl उन्होंने अधिकारियों को निर्देश दिया कि जिन बच्चों के पिता की कोविड-19 से मृत्यु हो गई है उसे सरकार की सभी सुविधाओं का लाभ दिया जाएl उन्होंने अधिकारियों को निर्देश दिया कि बच्चों कि जो भी प्रमाण पत्र बनने हैं, आपस में समन्वय स्थापित कर तत्काल लाभान्वित करेंl
मा0 सदस्य ने सभी विभागीय के अधिकारियों को निर्देश दिया कि सभी संबंधित अधिकारी आपस में समन्वय स्थापित कर बच्चों के हित में काम करेंl उन्होंने कहा कि निराश्रित बच्चों को लाभान्वित करना एवं संरक्षण देना सरकार की शीर्ष प्राथमिकता हैl इसमें किसी भी प्रकार की लापरवाही नहीं होनी चाहिए। इससे पूर्व मा0 सदस्य, शुचिता चतुर्वेदी ने जनपद मऊ के तहसील मुहम्मदाबाद गोहना मे शिशु गृह एवं सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र मुहम्दाबाद गोहना का निरीक्षण किया। इसी के साथ ही मेडिकल कॉलेज आजमगढ़ में बनाए गए पीकू वार्ड का निरीक्षण किया तथा कोविड-19 की तीसरी लहर से बचने के लिए की जा रही तैयारियों का निरीक्षण किया। उन्होंने कहा कि कोविड-19 के तीसरी लहर में बच्चों का विशेष ध्यान रखा जाएl उन्होंने अधिकारियों को निर्देश दिया कि समय से सभी आवश्यक तैयारियों को सुनिश्चित कर लिया जाएl निरीक्षण के दौरान पाई गई कमियों पर गहरी नाराजगी व्यक्त कियाl उन्होंने तत्काल सभी व्यवस्थाओं को दुरुस्त करने का निर्देश दियाl उन्होंने अस्पतालों मे साफ-सफाई, सैनिटाइजेशन फागिंग आदि लगातार कराने के निर्देश दिए। बैठक में आजमगढ़ मंडल के तीनों जनपदों, बलिया, मऊ एवं आजमगढ़ के संबंधित अधिकारी उपस्थित रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *